NDTV Khabar

बीते 76 सालों में धरती की ये दो जगहें रहीं सबसे गर्म, जानिये कितना रहा तापमान

सालों की जांच के बाद विश्व मौसम विज्ञान संगठन (World Meteorological Organization) ने धरती पर दो सबसे गर्म स्थानों की घोषणा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीते 76 सालों में धरती की ये दो जगहें रहीं सबसे गर्म, जानिये कितना रहा तापमान

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

सालों की जांच के बाद विश्व मौसम विज्ञान संगठन (World Meteorological Organization) ने धरती पर दो सबसे गर्म स्थानों की घोषणा की. विश्व मौसम विज्ञान संगठन ने बताया कि चिलचिलाती गर्मी वाली इन दो जगहों में से एक मध्य पूर्व की और दूसरी दक्षिण एशिया की है. मौसम विज्ञान संगठन ने बताया कि एक देश कुवैत है और दूसरा पाकिस्तान है जहां सबसे ज्यादा तापमान दर्ज किया गया है.

भीषण गर्मी हो सकती है जानलेवा, पहचानें लू लगने के लक्षण और तुरंत अपनाएं ये उपाय

वाशिंगटन पोस्ट की खबर के अनुसार, कुवैत के मित्रीबाह में 21 जुलाई 2016 को तापमान 53.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, वहीं, पाकिस्तान के तुर्बत में 28 मई 2017 को 53.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. विश्व मौसम विज्ञान संगठन ने एक बयान में बताया कि कुवैत के मित्रीबाह में दर्ज किया गया तापमान डब्ल्यूएमओ (WMO) द्वारा एशिया महाद्वीपीय क्षेत्र के लिए दर्ज किए गए सर्वाधिक तापमान के रूप में स्वीकार किया जाता है. यह दोनों जगहें विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) द्वारा मान्यता प्राप्त तापमान की चरम सीमा पर तीसरे और चौथे स्थान पर हैं. ये पिछले 76 वर्षों में सर्वाधिक माने गए तापमान हैं.

भयंकर गर्मी के कारण सूखते जा रहे हैं देश के बड़े जलाशय, केंद्र ने राज्यों को जारी की एडवाइजरी


बता दें कि विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) की सूची में कैलिफोर्निया के डेथ वैली के फर्नेस क्रीक में 30 जून 2013 को दर्ज किए गए 54.0 डिग्री सेल्सियस को शामिल नहीं किया गया है, जो कि सर्वाधिक वैश्विक तापमान है. 

दिल्ली-एनसीआर में लोगों को अभी गर्मी से नहीं मिलेगी राहत, जानें अपने राज्य का हाल...

टिप्पणियां

बता दें कि साल 1913 में यह कैलिफोर्निया का यह स्थान और भी अधिक गर्म था, जब यहां तापमान 56.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था. यह तापमान पृथ्वी पर सबसे गर्म जगह के रूप में मान्यता प्राप्त है. हालांकि, कुछ विशेषज्ञ इसकी वैधता पर सवाल उठाते हैं. इसे हाल ही में एक विश्लेषण में मौसम के दृष्टिकोण से 'अनिवार्य रूप से संभव नहीं' होने के रूप में बताया गया था.

VIDEO: दुनिया में सबसे गर्म हिंदुस्तान!



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement