Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ब्रेक्जिट के बाद ब्रिटेन का स्वाभाविक सहयोगी हो सकता है भारत: लॉर्ड स्वराज पॉल

प्रवासी भारतीय उद्योगपति लॉर्ड स्वराज पॉल ने कहा है कि ब्रेक्जिट के बाद भारत बड़े स्तर पर ब्रिटेन का स्वाभाविक सहयोगी हो सकता है.

ब्रेक्जिट के बाद ब्रिटेन का स्वाभाविक सहयोगी हो सकता है भारत: लॉर्ड स्वराज पॉल

लॉर्ड स्वराज पॉल की फाइल तस्वीर

लंदन:

प्रवासी भारतीय उद्योगपति लॉर्ड स्वराज पॉल ने कहा है कि ब्रेक्जिट के बाद भारत बड़े स्तर पर ब्रिटेन का स्वाभाविक सहयोगी हो सकता है. उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ छोड़ने के ब्रिटेन के फैसले ने भारत एवं ब्रिटेन को एक साथ काम करने और एक-दूसरे से लाभ प्राप्त करने का एक अवसर प्रदान किया है.

कपारो ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष पॉल ने कहा, 'ब्रिटेन यूरोप से बाहर हो रहा है और भारत कहीं बड़े स्तर पर ब्रिटेन का स्वाभाविक भागीदार हो सकता है, इसलिए मैं आपको ब्रिटेन को अपनी पहली पसंद के तौर पर देखने के लिए आमंत्रित करता हूं.'

यह भी पढ़ें : ब्रिटेन में 1980 के दशक में लॉर्ड पॉल को वैकल्पिक भारतीय उच्चायुक्त के रूप में देखा जाता था

शनिवार शाम वह यहां आयोजित 'इंडिया ऑन द ग्लोबल स्टेज' विषय पर आधारित 17वें नेशनल कॉन्फ्रेंस ऑफ कन्फेडरेशन ऑफ रियल इस्टेट डेवलपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि शालीन एवं सम्मानजनक तरीके से कारोबार करने के इच्छुक किसी व्यक्ति के लिए कोई प्रतिबंध नहीं है.

VIDEO : ब्रेजिक्ट का दुनिया भर में व्यापक असर
उन्होंने कहा, 'सरकार, स्थानीय काउंसिल आदि आपको तमाम सहयोग प्रदान करेंगे.' उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने दुनियाभर के देशों के साथ भारत के संबंध के लिए नया मानदंड स्थापित किया है और भारत का वैश्विक रुतबा बढ़ाया है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)