NDTV Khabar

London attack: भारत ने लंदन की संसद के बाहर हुए आतंकी हमले की निंदा की, पीएम मोदी बोले- इस मुश्किल घड़ी में ब्रिटेन के साथ हैं

114 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
London attack: भारत ने लंदन की संसद के बाहर हुए आतंकी हमले की निंदा की, पीएम मोदी बोले- इस मुश्किल घड़ी में ब्रिटेन के साथ हैं

London attack: ब्रिटेन की संसद के बाहर आतंकी हमला

खास बातें

  1. पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- ब्रिटेन के साथ हैं
  2. सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया- लंदन उच्चायोग के संपर्क में
  3. हमले में किसी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं
नई दिल्ली: ब्रिटेन की राजधानी लंदन में संसद भवन के पास एक हमलावर ने कार से राहगीरों को कुचल दिया और संसद परिसर के बाहर एक पुलिस अधिकारी को चाकू मार दिया. भारत ने इस आतंकी हमले की यह कहते हुए निन्दा की है कि लोकतांत्रिक और सभ्य समाज में आतंकवाद के लिए कोई स्थान नहीं है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने ट्वीट किया, ‘‘भारत वेस्टमिंस्टर आतंकी हमले की कड़ी निन्दा करता है और लोगों की मौत पर शोक प्रकट करता है। लोकतांत्रिक और सभ्य समाज में आतंकवाद के लिए कोई स्थान नहीं है. ब्रिटिश संसद परिसर के निकट एक हमलावर ने ब्रिटिश पुलिस अधिकारी को चाकू मार दिया. हमलावर को गोली मार दी गई. स्कॉटलैंड यार्ड ने इसे ‘आतंकी घटना’ बताया है. इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गई और कम-से-कम 40 लोग घायल हो गए.

ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग ने कहा है, वेस्टमिंस्टर की घटना के दौरान घायल हुआ कोई भी भारतीय एचसीआई (भारतीय उच्चायोग) की लोक प्रतिक्रिया इकाई से जल्द से जल्द संपर्क कर सकता है.

वहीं इस मामले पर विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि इस हमले में किसी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है. मैं लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग के लगातार संपर्क में हूं. ब्रिटिश संसदीय परिसर में हुए आतंकी हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे से बात की और दोषियों को कानून के दायरे में लाने के लिए अपनी सरकार के पूर्ण सहयोग का भरोसा दिया. उन्होंने एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हमले की निंदा की है. प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि वह इस हमले से बेहद दुखी है. हमले के शिकार लोगों के लिए संवेदना जताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम उनके व उनके परिवार के लिए प्रार्थना कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि इस मुश्किल घड़ी में आतंक के खिलाफ लड़ाई में भारत ब्रिटिश सरकार के साथ खड़ा है.
  ब्रिटिश संसदीय परिसर में हुए आतंकी हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे से बात की और दोषियों को कानून के दायरे में लाने के लिए अपनी सरकार के पूर्ण सहयोग का भरोसा दिया. व्हाइटहाउस ने दोनों नेताओं के बीच फोन पर हुई बातचीत का ब्यौरा देते हुए कहा, हमले की प्रतिक्रिया देने और दोषियों को कानून के दायरे में लाने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप ने पूर्ण सहयोग की प्रतिबद्धता जताई और सरकार के पूरे समर्थन का भरोसा दिया. बातचीत में ट्रंप ने ब्रिटिश सुरक्षा बलों की त्वरित कार्रवाई की भी सराहना की. (इनपुट्स PTI से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement