NDTV Khabar

रासायनिक, जैविक हथियारों पर निगरानी की जरूरत : भारत

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रासायनिक, जैविक हथियारों पर निगरानी की जरूरत : भारत
संयुक्त राष्ट्र :

भारत ने रासायनिक एवं जैविक हथियारों पर आतंकवादियों और 'नॉन-स्टेट फैक्टर्स' के हाथों में पड़ने के खतरे के प्रति दुनिया को आगाह करते हुए इसके लिए सतर्क रहने का आह्वान किया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा समिति में गुरुवार को नि:शस्त्रीकरण विषय पर चर्चा के दौरान भारत के प्रतिनिधि अभिषेक बनर्जी ने कहा, "अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आतंकवादियों और नॉन-स्टेट एक्र्ट्स पर निगरानी रखनी चाहिए, जो लगातार रासायनिक हथियार प्राप्त करने या इसका इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे हैं।"

बनर्जी ने आतंकवादियों और अन्य नॉन-स्टेट एक्र्ट्स को अंतरराष्ट्रीय शांति एवं सुरक्षा के लिए 'नई चुनौतियां' करार देते हुए कहा कि भारत जैविक हथियार कन्वेंशन (बीडब्ल्यूसी) की सुदृढ़ता चाहता है।

टिप्पणियां

बनर्जी तृणमूल कांग्रेस के सदस्य हैं और पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर संसदीय क्षेत्र से लोकसभा के सांसद हैं। वह सत्तारूढ़ और विपक्षी दलों के उन पांच सांसदों में से हैं, जिन्हें संयुक्त राष्ट्र में भारत का प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है।


उन्होंने बताया कि भारत ने 2009 में अपने रासायनिक हथियारों का भंडार नष्ट कर दिया था और सीरिया के रासायनिक हथियारों को नष्ट करने के लिए संयुक्त राष्ट्र और ऑर्गेनाइजेशन फॉर द प्रोहिबिशन ऑफ केमिकल वेपन्स (ओपीसीडब्ल्यू) के प्रयासों में योगदान दिया।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement