NDTV Khabar

2018 से इंडिया टू ईरान जाना होगा आसान, नहीं जाना पड़ेगा पाकिस्तान

सड़क, परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग एवं नौवहन मंत्री गडकरी ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी के शपथ ग्रहण समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए शनिवार को तेहरान में रहे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि सरकार को उम्मीद है कि रणनीतिक चाबहार बंदरगाह 2018 तक चालू हो जाएगा. सड़क, परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग एवं नौवहन मंत्री गडकरी ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी के शपथ ग्रहण समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए शनिवार को तेहरान में रहे. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इससे पहले ईरान का राष्ट्रपति दोबारा चुने जाने पर रुहानी को बधाई दी थी. उन्होंने दोनों देशों के बीच विशेष रिश्ते को मजबूत करने के प्रति भारत की प्रतिबद्धता दोहरायी थी. 

ये भी पढ़ें: कभी भी ढह सकते हैं 100 पुल

गडकरी ने कहा, 'भारत और ईरान के बीच विशेष ऐतिहासिक रिश्ते रहे हैं. हम चाबहार बंदरगाह को विकसित करने को इच्छुक हैं और हमें एक से डेढ़ साल में इसका परिचालन शुरु हो जाने की आशा है. ' गडकरी चाबहार बंदरगाह के विकास का काम तेजी से पूरा करने के पक्ष में हैं . भारत के पश्चिमी तट से पाकिस्तान जाये बिना ही यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है. यह ईरान के सिस्तान ब्लूचिस्तान प्रांत में है. 
 
ये भी पढ़ें: देश भर में कंक्रीट वाली सड़कें बनाएंगे : नितिन गडकरी



वीडियो: संसद में उठा एनएचआईए अधिकारियों को रिश्वत देने का मामला

टिप्पणियां

गडकरी की यह यात्रा अहम है क्योंकि भारत ने चाबहार में निर्माण कार्य तेज कर दिया है और वहां कुछ अहम उपकरण लगाने के लिए कुछ निविदाओं को अंतिम रुप दिया है. मंत्री ने कहा, 'निर्माण कार्य वहां शुरु हो गया है. हमने 600 करोड़ रुपये के उपकरणों के लिए 380 करोड़ रुपये की निविदाओं को अंतिम रुप दिया है. जब यह बंदरगाह चालू हो जाएगा तब यह वृद्धि इंजन बन जाएगा. '

इनुपट: भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement