चीन ने कहा, गठबंधन बनाने की बजाय साझेदारी के लिए काम करें भारत, जापान

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह अहमदाबाद में दोनों नेताओं के बीच बैठक के नतीजे का इंतजार कर रहा है.

चीन ने कहा, गठबंधन बनाने की बजाय साझेदारी के लिए काम करें भारत, जापान

खास बातें

  • भारत व जापान के बीच बढ़ते संबंधों से चीन चिंतित है.
  • चीन साझेदारी को अपने विरोध के तौर पर देखता है.
  • अहमदाबाद में दोनों नेताओं के बीच बैठक के नतीजे का इंतजार कर रहा है.
बीजिंग:

चीन ने गुरुवार को कहा कि भारत व जापान को गठबंधन बनाने की बजाय साझेदारी के लिए काम करना चाहिए, क्योंकि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व जापानी समकक्ष शिंजो आबे ने द्विपक्षीय रक्षा व सुरक्षा के संबंधों पर चर्चा के लिए तैयार हैं. चीन ने यह भी उम्मीद जताई कि भारत-जापान संबंध क्षेत्रीय शांति व स्थिरता के अनुकूल होंगे. जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे दो दिवसीय भारत के दौरे पर हैं.

दोनों देशों के बीच भारत-प्रशांत क्षेत्र में उनके संयुक्त भूमिका पर चर्चा होने की उम्मीद है, जहां चीन तेजी से मुखर हो रहा है. चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह अहमदाबाद में दोनों नेताओं के बीच बैठक के नतीजे का इंतजार कर रहा है.

यह भी पढे़ं : बुलेट ट्रेन से बीजेपी तय करेगी 2024 तक सियासी सफर, इस इवेंट के कई हैं मायने

मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, 'उनमें क्या चर्चा होती है, हमें विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा करनी चाहिए. हम क्षेत्रीय देशों में बिना टकराव के बातचीत और गठबंधन की बजाय साझेदारी में काम करने का समर्थन करते हैं.'

यह भी पढे़ं : कैसी होगी भारत की पहली बुलेट ट्रेन, पढ़ें वो सारे सवालों के जवाब जो आप जानना चाहते हैं

Newsbeep

हुआ ने कहा, 'हम क्षेत्र के देशों के बीच सामान्य संबंधों के विकास का खुले तौर पर स्वागत करते हैं. हम आशा करते हैं कि उनके सबंध क्षेत्रीय शांति व स्थिरता के अनुकूल होंगे और इस संदर्भ में एक रचनात्मक भूमिका निभा सकते हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEOS : कैसे चलेगी भारत की पहली बुलेट ट्रेन, इस शानदार मॉडल के जरिए समझें​
भारत व जापान के बीच बढ़ते संबंधों से चीन चिंतित है, वह साझेदारी को अपने विरोध के तौर पर देखता है.(इनपुट आईएएनएस से)