NDTV Khabar

चीन की तर्ज पर दक्षिण चीन सागर में भारत की भी सुनामी चेतावनी प्रणाली स्थापित करने की योजना

भारत की प्रणाली वियतनाम, थाइलैंड और मलेशिया जैसे दक्षिण चीन सागर के तटीय देशों को सुनामी के मामले में शीघ्र अलर्ट भेजेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीन की तर्ज पर दक्षिण चीन सागर में भारत की भी सुनामी चेतावनी प्रणाली स्थापित करने की योजना

खास बातें

  1. सागर के तटीय देशों को सुनामी के मामले में शीघ्र अलर्ट भेजेगा
  2. चीन का सुनामी चेतावनी केंद्र इस साल प्रायोगिक संचालन शुरू करेगा
  3. यह वियतनाम और थाईलैंड जसे देशों को लाभ पहुंचाएगी
नई दिल्ली:
टिप्पणियां
भारत विवादित चीन सागर में अपना प्रभाव बढ़ाने के प्रयास के तहत क्षेत्र के लिए सुनामी पूर्व चेतावनी प्रणाली स्थापित करने पर विचार कर रहा है. यह ऐसा कदम है जिस पर कथित तौर पर चीन भी काम कर रहा है. भारत की प्रणाली वियतनाम, थाइलैंड और मलेशिया जैसे दक्षिण चीन सागर के तटीय देशों को सुनामी के मामले में शीघ्र अलर्ट भेजेगी. चीन की आधिकारिक समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने मार्च में खबर दी थी कि इस क्षेत्र में चीन का सुनामी चेतावनी केंद्र इस साल प्रायोगिक संचालन शुरू करेगा.

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने कहा कि दक्षिण-पूर्वी और दक्षिण एशियाई देशों को सुनामी की चेतावनी मुहैया कराने के लिए भारत के पास पहले से ही ऐसी प्रणाली है. उन्होंने कहा, ‘ भारत आरआईएमइएस रीजनल इंटिग्रेटेड मल्टीहजार्ड अर्ली वार्निंग सिस्टम फॉर एशिया एंड अफ्रीका’ का अध्यक्ष है. हम संसाधनों को मुहैया कराने में भी बड़ी भूमिका निभाते हैं. इसलिए, हम दक्षिण चीन सागर में सुनामी पूर्व चेतावनी प्रणाली स्थापित करने की संभावनाएं तलाश रहे हैं.’ भारत का विवादित क्षेत्र में खासकर अपतटीय तेल अन्वेषण में वियतनाम की पेट्रो वियतनाम के साथ आर्थिक हित भी है. चीन सागर में स्पाटर्ली द्वीप समूह को अपना बताता है, ऐसे में क्षेत्र में भारत की भूमिका बहुत मायने रखती है.
 
हालांकि, राजीवन ने यह साफ किया कि इस परियोजना को आधिकारिक रूप से अभी तक मंजूरी नहीं मिली है. उन्होंने कहा, ‘अगर यह परियोजना स्वरूप में आती है तो चेतावनी आरआईमइएस से मुहैया कराई जाएगी और यह वियतनाम और थाइलैंड जसे देशों को लाभ पहुंचाएगी.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement