NDTV Khabar

US में भारतीयों पर हो रहे हमलों पर भारत ने जताई चिंता, अमेरिका ने दिया जल्द इंसाफ का भरोसा

12 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
US में भारतीयों पर हो रहे हमलों पर भारत ने जताई चिंता, अमेरिका ने दिया जल्द इंसाफ का भरोसा

अमेरिका में भारतीय दूतावास ने भारतीयों पर हो रहे हमलों पर गहरी चिंता जाहिर की है

खास बातें

  1. अमेरिका में पिछले 10 दिनों में भारतीयों पर तीन हमले हो चुके हैं
  2. पहला हमला कंसास में हुआ, जिसमें एक भारतीय की मौत हो गई
  3. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पीड़ितों के परिजनों के संपर्क बनाए हुए हैं
वाशिंगटन: भारत ने पिछले कुछ दिनों से अमेरिका में हो रहे भारतीयों पर हमलों की कड़ी निंदा की है. अमेरिका में पनप रहे इस नफरत के अपराध पर भारत ने चिंता जताते हुए अमेरिका प्रशासन से इस मुद्दे पर गंभीर कदम उठाने की मांग की है. हालांकि, अमेरिकी प्रशासन ने भी इन घटनाओं पर दुख प्रकट करते हुए पीड़ितों को जल्द ही न्याय दिलाने का भरोसा जताया है.

अमेरिकी दूतावास की प्रभारी मेरीके लॉस कार्लसन ने ट्वीट कर कहा, "वाशिंगटन में गोलीबारी से दुखी हूं. हम पीड़ित के जल्द ठीक होने की कामना करते हैं. जैसा कि अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा है, हम 'सभी तरह की नफरत व बुराई' की निंदा करते हैं."

उधर, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भारतीयों पर हो रहे हमलों की कड़ी निंदा की है. उन्होंने इन घटनाओं पर शोक प्रकट करते हुए कहा कि वे पीड़ित परिवारों के संपर्क में हैं और उन्हें हर संभव मदद दिलाने की कोशिश कर रही हैं.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हरनीश पटेल की हत्या पर भी दुख प्रकट करते हुए कहा कि उन्हें दक्षिण कैरोलिना के लैंकास्टर में भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक हरनीश पटेल की हत्या की खबर सुनकर पीड़ा हुई. भारत के वाणिज्य दूतावास ने हरनीश पटेल के परिवार से सम्पर्क किया है और इस मामले की जांच चल रही है.
अमेरिका में भारत के राजदूत नवतेज सरना ने बताया कि उन्होंने भारतीयों पर हुए हमलों पर अमेरिका को भारत की गहरी चिंताओं से अवगत करा दिया है.
शुक्रवार रात को 39 वर्षीय सिख पर हमला किया गया, जिसमें वह घायल हो गए. उसकी बांह में गोली लगी. अमेरिका में पिछले 10 दिनों में भारतीय मूल के शख्स पर यह तीसरा हमला था.

इससे पहले गुरुवार को दक्षिण कैरोलिना के लैंकेस्टर में भी एक नस्लीय हमले में हरनीश पटेल की हत्या कर दी गई थी.  एक किराना स्टोर के मालिक हरनीश पटेल अपने घर के सामने मृत मिले थे और उन्हें गोलियां लगी थीं. 

लैंकेस्टर काउंटी के प्रशासन का कहना है कि स्थानीय प्रशासन जांच कर रहा है और वे उनके संपर्क में हैं. काउंटी के प्रशासन ने कहा है कि स्टोर के मालिक की हत्या शायद घृणाजनित अपराध नहीं है.

इसके अलावा 22 फरवरी को कंसास के ओलेथ में हुए नस्लीय हमले में भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की मौत हो गई थी. कंसास हमले में आलोक मदासानी भी गंभीर रूप से घायल हो गए थे.



 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement