NDTV Khabar

भारत ने तो खारिज किया लेकिन पाकिस्तान ने अमेरिकी मध्यस्थता का स्वागत किया

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत ने तो खारिज किया लेकिन पाकिस्तान ने अमेरिकी मध्यस्थता का स्वागत किया

निक्‍की हेली ने कल अमेरिका की भारत-पाक के बीच मध्‍यस्‍थता की पेशकश की थी.(फाइल फोटो)

वाशिंगटन: पाकिस्तान ने भारत के साथ तनाव कम करने में अमेरिका की ओर से की गई मदद की पेशकश का स्वागत किया है और कहा है कि दक्षिण एशिया में शांति एवं स्थिरता लाने के लिए अमेरिका द्वारा निभाई जाने वाली 'किसी भी सकारात्मक भूमिका' से क्षेत्र का भला होगा. यह जानकारी आज एक मीडिया रिपोर्ट में दी गई है.

वाशिंगटन में पाकिस्तान के दूत एजाज अहमद चौधरी ने संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निकी हेली की सोमवार की टिप्पणियों को सकारात्मक बताया जिसमें उन्होंने कहा था कि अमेरिका भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने के प्रयासों में अपना ''स्थान बनाने'' की कोशिश करेगा.

डॉन ने वाशिंगटन से दी गई खबर में चौधरी का हवाला देते हुए कहा, ''दक्षिण एशिया में शांति एवं स्थिरता लाने के लिए अमेरिका जो भी सकारात्मक भूमिका निभाता है, वह क्षेत्र के भले के लिए होगा.'' चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान की दिलचस्पी ऐसे प्रयासों में है क्योंकि वह ''भारत के साथ अच्छे पड़ोसियों वाले संबंध चाहता है.''  किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता के प्रति पाकिस्तानी समर्थन ऐसे समय पर आया है, जब कि भारत ने भारत-पाक मामलों में अमेरिका की किसी भी भूमिका को कल नकार दिया था. भारत ने कहा कि भारत-पाक संबंधी सभी मुद्दों को आतंक और हिंसा से मुक्त माहौल में द्विपक्षीय ढंग से सुलझाने का उसका रुख बदला नहीं है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement