भारत अगले महीने चाबहार बंदरगाह के लिए 15 करोड़ डॉलर की रेल का निर्यात करेगा

भारत अगले महीने चाबहार बंदरगाह के लिए 15 करोड़ डॉलर की रेल का निर्यात करेगा

चाबहार बंदरगाह का फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली:

भारत की इस्पात कंपनियां अगले महीने ईरान को 15 करोड़ डॉलर की रेल का निर्यात करेंगी। यह निर्यात दोनों देशों के बीच रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण चाबहार बंदरगाह में रेलवे और अन्य बुनियादी ढांचे के विकास के करार के तहत किया जा रहा है।

भारत में ईरान के राजदूत गुलामरेजा अंसारी ने गुरुवार को सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की। इस बैठक के बाद एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, 'ईरान को 15 करोड़ डॉलर की रेल की पहली खेप जुलाई में भेजी जाएगी।' अधिकारी ने बताया कि रेल की खेप इस्पात कंपनियां भेजेंगी।

अधिकारी ने कहा कि 'गडकरी और अंसारी ने दक्षिणी ईरान में रणनीतिक चाबहार बंदरगाह पर हुए ऐतिहासिक करार को और आगे ले जाने पर चर्चा की। इससे भारत को पाकिस्तान को अलग कर अफगानिस्तान तथा यूरोप तक पहुंच मिलेगी।' पिछले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ईरान यात्रा के दौरान चाबहार बंदरगाह और अन्य ढांचे के विकास पर करार हुआ था।

गडकरी ने पिछले महीने कहा था कि भारत चाबहार के मुक्त व्यापार क्षेत्र में एल्युमीनियम स्मेल्टर से लेकर यूरिया संयंत्रों तक उद्योग स्थापित करने को अरबों डॉलर का निवेश करेगा।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अधिकारी ने बताया कि अगले महीने जहाजरानी मंत्री तथा उनके ईरानी समकक्ष के बीच बैठक होगी, जिसमें चाबहार मुक्त व्यापार क्षेत्र की औद्योगिक और निवेश जरूरतों के लिए कार्ययोजना बनाने पर विचार होगा। चाबहार मुक्त व्यापार क्षेत्र में उद्योग स्थापित करने पर ध्यान केंद्रीत किया जाएगा।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)