भारतीय मूल के अमेरिकी CEO ने अर्थव्यवस्था को खोलने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का किया समर्थन

अमेरिका में एक अग्रणी रेस्टोरेंट श्रृंखला के भारतीय मूल के अमेरिकी CEO ने COVID-19 महामारी के बीच अमेरिकी अर्थव्यवस्था को चरणबद्ध तरीके से खोलने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले का समर्थन किया है.

भारतीय मूल के अमेरिकी CEO ने अर्थव्यवस्था को खोलने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का किया समर्थन

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • एक अग्रणी रेस्टोरेंट श्रृंखला के भारतीय मूल के अमेरिकी CEO ने किया समर्थन
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी अर्थव्यवस्था को खोलने की शुरुआत की
  • कोरोना वायरस महामारी के चलते दो महीने लॉकडाउन के चलते बंद थी अर्थव्यवस्था
वाशिंगटन:

अमेरिका में एक अग्रणी रेस्टोरेंट श्रृंखला के भारतीय मूल के अमेरिकी CEO ने COVID-19 महामारी के बीच अमेरिकी अर्थव्यवस्था को चरणबद्ध तरीके से खोलने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले का समर्थन किया है. अमेरिका ने कोरोना वायरस महामारी के चलते दो महीने लॉकडाउन लागू रहने के बाद अब अर्थव्यवस्था को खोलने की शुरूआत की है. कोरोना वायरस महामारी से सबसे अधिक पीड़ित देश अमेरिका है, जहां संक्रमण के 15 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और करीब 92 हजार लोगों की मौत हो चुकी है. 


पैनेरा ब्रेड के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) नीरेन चौधरी ने व्हाइट हाउस में रेस्टोरेंट कारोबारियों के साथ ट्रंप की बैठक के दौरान कहा, ‘मेरा मानना ​​है कि स्वास्थ्य संकट अब 3.6 करोड़ लोगों के बेरोजगार होने के बाद वित्तीय संकट और मानवीय संकट बन गया है. करीब 5.4 करोड़ अमेरिकी भूख से लड़ रहे हैं.' 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने ट्रंप से कहा, ‘इसलिए मुझे लगता है कि अभी चरणबद्ध तरीके से अर्थव्यवस्था को खोलना सही है.' अमेरिका में पिछले दो-तीन महीनों से रेस्टोरेंट उद्योग बंद से बुरी तरह प्रभावित है. बैठक के दौरान ट्रंप ने अर्थव्यवस्था को क्रमिक रूप से खोलने पर जोर दिया और उन्होंने रेस्टोरेंट उद्योग की मदद के लिए किए गए उपायों के बारे में बताया.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)