NDTV Khabar

जिससे इलाज करवा रहा था, उसी मनोचिकित्सक का कर दिया कत्ल? आरोपी महज 21 साल का...

आरोपी युवक उसी डॉक्टर की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है जिससे वह इलाज करवा रहा था. लोकल मीडिया के मुताबिक, उसे 'सीधा करने के लिए' एक बार भारत भी भेजा गया था.

150 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जिससे इलाज करवा रहा था, उसी मनोचिकित्सक का कर दिया कत्ल? आरोपी महज 21 साल का...

उमर राशिद दत्त (21 साल) को गिरफ्तार कर लिया गया है, डॉक्टर अच्युता रेड्डी की हत्या का आरोप है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कंसास में एक 57 वर्षीय डॉक्टर की छुरा घोंपकर हत्या
  2. आरोपी 21 साल का, गिरफ्तार किया गया
  3. पड़ोसी कहते हैं, शांत किस्म का था लेकिन उसके संगी साथी गलत थे
कंसास सिटी: अमेरिका के कंसास में एक 57 साल के मनोचिकित्सक की हत्या के आरोप में 21 साल के भारतीय अमेरिकी युवक को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी युवक उसी डॉक्टर की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है जिससे वह इलाज करवा रहा था. लोकल मीडिया के मुताबिक, उसे 'सीधा करने के लिए' एक बार भारत भी भेजा गया था. यहां बता दें कि जिस डॉक्टर की हत्या की गई है वह भी भारतीय मूल का है.

पढ़ें- दुबई में भारतीय की हत्या के आरोप में अन्य भारतीय को 5 साल की सजा

यह युवक उमर राशिद दत्त को बुधवार को गिरफ्तार किया गया. उसे 57 साल के मनोचिकित्सक अच्युता रेड्डी की हत्या के आरोप में अरेस्ट किया गया है. डॉक्टर रेड्डी तेलंगाना से थे. आरोप है कि दत्त ने युवक को बार बार छुरा घोंपकर मार डाला और यह घटना डॉक्टर के क्लिनिक के करीब ही गली में हुई. 

दत्त के पड़ोसियों और पूर्व में टीचर रहे ने गुरुवार को लोकल टीवी स्टेशन KWCH से कहा कि वैसे वह 'दयालु और काफी शांत' किस्म का था लेकिन वह इसी के साथ 'विद्रोही भी था और गलत कंपनी' में रहता था. दत्त के टीचर रयान स्क्रेडर द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, उसे भारत भेजने पर भी चर्चाएं होती थीं ताकि वह सही रास्ते पर आ जाए. टीचर ने बताया कि भविष्य में उसे क्या करना है जैसे सवालों को लेकर उसका पैरेंट्स से मतभेद भी था. 

दत्त वीचिता इलाके में अपनी बहनो और पैरेंट्स के साथ पला बढ़ा. 2014 में हाई स्कूल तक पढ़ाई की.  यूनिवर्सिटी से कुछ सेमेस्टर पढ़ाई भी कि लेकिन ग्रेजुएट नहीं हुआ. पड़ोसी उसे दयालु और शांत बता रहे हैं और जो उसे जानते थेत उनका कहना है कि वह हिंसक नहीं था. 

VIDEO: क्या H1B वीजा से यूएस पेशेवरों के साथ भेदभाव हो रहा है?
बता दें कि डॉक्टर रेड्डी के अलावा कंसास में भारतीय मूल के व्यक्ति की यह दूसरी हत्या है. तेलंगाना के ही श्रीनिवास कुछिभोतला को नस्ली हिंसा के चलते मार डाला गया था. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement