रोज़ टॉर्चर करता था पति, एक दिन निकले घूमने तो पार्किंग में किया ऐसा...बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल

दम्पति के 16 और पांच वर्षीय दो बच्चे हैं, जो मृतका के माता-पिता के साथ केरल में रहते हैं. महिला के भाई विनयचंद्रन ने बताया कि उसकी बहन उनके साथ ओणम मनाने के लिए मंगलवार को आने वाली थी. 

रोज़ टॉर्चर करता था पति, एक दिन निकले घूमने तो पार्किंग में किया ऐसा...बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल

यूएई में एक भारतीय ने की पत्नी की हत्या

दुबई:

यूएई में एक भारतीय मूल के व्यक्ति ने जमकर हुयी कहासुनी के बाद अपनी पत्नी की चाकू मारकर हत्या कर दी. ‘खलीज टाइम्स' की खबर के अनुसार 43 वर्षीय यू.सी ने अपनी पत्नी सी. विद्या चंद्रन (39) की अल-कोज की एक कार पार्किंग में सोमवार को हत्या कर दी.

दम्पति के 16 और पांच वर्षीय दो बच्चे हैं, जो मृतका के माता-पिता के साथ केरल में रहते हैं. महिला के भाई विनयचंद्रन ने बताया कि उसकी बहन उनके साथ ओणम मनाने के लिए मंगलवार को आने वाली थी. खबर में विनयचंद्रन के हवाले से कहा गया, ‘‘ मेरी उससे दो दिन पहले ही बात हुई थी. वह ओणम के लिए घर आने और बच्चों से मिलने को बेहद उत्साहित थी। मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा कि वह अब नहीं रही.''

9/11 Attack से दहल गया था अमेरिका, तस्वीरों और वीडियो में देखें खौफनाक मंजर

उन्होंने बताया कि इस खबर को सुन उनके माता-पिता सदमे में हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं उन्हें कैसे संभालूं? वे मुझसे उसके बारे में सवाल पूछ रहे हैं, जिसका मेरे पास जवाब नहीं है.''

उन्होंने बताया कि उनके परिवार को घटना की जानकारी मृतका के एक सहकर्मी ने दी. उन्होंने कहा, ‘‘ उसने (पति ने) अल-कोज की एक कार पार्किंग में उसकी चाकू मारकर हत्या कर दी और वह अब पुलिस हिरासत में है. हमें नहीं पता वास्तव में क्या हुआ.''

विनयचंद्रन ने आरोप लगाया कि उसकी बहन की वैवाहिक जिंदगी ठीक नहीं थी. दोनों की 16 वर्ष पहले शादी हुई थी.
उन्होंने कहा, ‘‘ वह व्यक्ति मेरी बहन को लंबे समय से प्रताड़ित कर रहा था. पिछले साल उसने घरेलू हिंसा की शिकायत भी दर्ज कराई थी. उन्होंने ‘काउंसलिंग' भी ली थी और उसके बाद चीजें थोड़ी बेहतर हुई थी.''

भारतीय राजदूत ने अमेरिकी मीडिया पर लगाया आरोप, बोले - कश्मीर की एकतरफा तस्वीर दिखाई जा रही है

खबर के अनुसार उन्होंने बताया कि वह करीब डेढ़ साल पहले ही दुबई गए थे. उन्होंने कहा, ‘‘उसने (पति ने) काफी कर्जा ले रखा था और उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी. इसलिए विद्या ने तिरुवनंतपुरम में नौकरी छोड़ पति के पास दुबई जाने का फैसला किया था.''

उन्होंने बताया कि विद्या अल-कोज की एक निजी कम्पनी के वित्त विभाग में काम कर रही थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, ‘‘ हमें पता था कि वह मुश्किल समय से गुजर रही है. उसकी (पति की) प्रताड़नाओं की वजह से हमने बच्चों को अपने पास रखने का फैसला किया था, लेकिन हमें नहीं पता था कि वह उसकी हत्या कर देगा,''

अलीबाबा फाउंडर जैक मा विग और गिटार के साथ आए नज़र, अपने फेयरवेल पर किया धमाकेदार डांस, देखें VIDEO