Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

ब्रिटेन में सड़क पर झगड़े के दौरान तीन लोगों की हत्या के मामले में भारतीय मूल के व्यक्ति पर आरोप

मारे गए तीनों लोग मूल रूप से पंजाब से ताल्लुक रखते थे. पुलिस को अभी उनकी औपचारिक पहचान बतानी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ब्रिटेन में सड़क पर झगड़े के दौरान तीन लोगों की हत्या के मामले में भारतीय मूल के व्यक्ति पर आरोप

स्कॉटलैंड यार्ड की विशेषज्ञ अपराध कमान ने हत्या के मामले की जांच शुरू कर दी.

लंदन:

पूर्वी लंदन में सप्ताहांत सड़क पर झगड़े के दौरान पंजाब से ताल्लुक रखने वाले तीन लोगों की हत्या के मामले में स्कॉटलैंड यार्ड ने भारतीय मूल के 29 वर्षीय एक व्यक्ति पर आरोप लगाया है. लंदन में स्थित रीडब्रिज मजिस्ट्रेट अदालत में बुधवार को पेश किए जाने से पहले गुरजीत सिंह पर मंगलवार शाम आरोप लगाया गया. वह हत्याओं के संबंध में जांच के दौर से गुजर रहा है, जबकि 39 वर्षीय एक अन्य व्यक्ति भी पुलिस हिरासत में है. मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने कहा, ‘‘घटना के उद्देश्य का पता लगाने के लिए जांच जारी है, हालांकि हमें नहीं लगता कि यह कोई गिरोह संबंधी घटना है. अधिकारी हत्याओं के मामले में इस चरण में आगे कोई और गिरफ्तारी नहीं कर रहे.'' 

मारे गए तीनों लोग मूल रूप से पंजाब से ताल्लुक रखते थे. पुलिस को अभी उनकी औपचारिक पहचान बतानी है, लेकिन स्थानीय तौर पर उन्हें नरिंदर उर्फ निक सिंह, हरिंदर उर्फ हनी कुमार और बलजीत सिंह कहा जाता था. पूर्व में पुलिस ने कहा था कि उसकी जांच में पता चला है कि स्थानीय सिख और हिन्दू समुदाय के लोगों के बीच ‘‘जारी विवाद'' के चलते यह हमला हुआ. ये लोग एक-दूसरे को जानते थे. 


टिप्पणियां

रविवार रात हुई घातक घटना से एक दिन पहले एक शादी के रिसेप्शन में हुए विवाद को इसकी वजह माना जा रहा है. मारे गए लोगों की उम्र 20 से 30 साल के बीच थी. रीडब्रिज के सेवनकिंग्स क्षेत्र में आपातकालीन सेवाओं को वे गंभीर हालत में मिले थे. उनके शरीर पर चाकुओं के घाव थे. स्कॉटलैंड यार्ड की विशेषज्ञ अपराध कमान ने हत्या के मामले की जांच शुरू कर दी और दो लोगों को संदेह के आधार पर गिरफ्तार कर लिया. 

लंदन के मेयर सादिक खान ने सोमवार को घटनास्थल का दौरा किया और शहर में चाकूबाजी की घटनाओं से निपटने के लिए सरकार से अधिक कोष की मांग की. घटनास्थल पर पहुंचे ब्रिटेन के सिख नेता जस अटवाल ने कहा कि उनका मानना है कि स्थानीय भारतीय प्रवासी समुदाय में चाकूबाजी की यह घटना एक अकेली घटना है. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने मेयर को स्पष्ट किया कि यहां इस तरह की घटनाएं नहीं होनी चाहिए. और अधिक काम किया जाना चाहिए. अब हमें और अधिक पुलिस की आवश्यकता है.''
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. World News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Delhi Violence: दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर रजनीकांत ने केंद्र सरकार की आलोचना की, कहा- निश्चित तौर पर यह...'

Advertisement