Budget
Hindi news home page

ISIS का 'नया जेहादी जॉन' है भारतीय मूल का सिद्धार्थ धर?

ईमेल करें
टिप्पणियां
ISIS का 'नया जेहादी जॉन' है भारतीय मूल का सिद्धार्थ धर?

आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप में ब्रिटिश पुलिस ने धर को गिरफ्तार किया था

लंदन: ब्रिटेन में हमले की धमकी देने वाले इस्लामिक स्टेट के ताजा वीडियो में दिख रहे आतंकवादी के भारतीय मूल के होने का अंदेशा है। इसे 'नया जेहादी जॉन' कहा जा रहा है और माना जा रहा है वह धर्मांतरण करके मुस्लिम बना है।

सिद्धार्थ धर से बना अबू रुमैसा
आईएसआईएस के ताज़ा वीडियो में दिख रहे अबू रुमैसा का नाम पहले सिद्धार्थ धर था। वह ब्रिटेन में जमानत पर था, जहां से सन 2014 में वह सीरिया में आईएसआईएस में शामिल होने के लिए अपनी पत्नी और चार बच्चों के साथ भाग निकला।

एक आधिकारिक सूत्र ने बीबीसी को बताया कि वीडियो में जांच का मुख्य केंद्रबिंदु धर है। इस वीडियो में पांच लोगों की हत्या करते हुए दिखाया गया है जिनके बारे में आईएसआईएस का कहना है कि वे ब्रिटेन के लिये जासूसी कर रहे थे। (पढ़ें- महिला गुलामों के साथ सेक्‍स को लेकर ISIS ने बनाए नियम!)

ब्रिटिश मीडिया ने धर को दिया नया नाम
धर की मां और बहन ने भी आईएसआईएस की ओर से रविवार को जारी वीडियो देखा है और धर तथा इस नकाबपोश आतंकवादी की आवाज की भी मिलान की। ब्रिटिश मीडिया ने धर को 'नया जेहादही जॉन' नाम दिया है। उसकी मां शोबिता धर ने 'द डेली टेलीग्राफ' से कहा, 'मैंने आवाज सुनी है, लेकिन मैं आवाज को लेकर निश्चिंत नहीं हूं। ये काफी जटिल सवाल हैं। मैं अभी कुछ नहीं कह सकती। मुझे यकीन नहीं हुआ है कि यह सच है या नहीं।' (ISIS के नए वीडियो में ब्रिटेन को धमकी)

धर का परिवार है आहत
उत्तरी लंदन में रहने वाली धर की बहन कोनिका धर ने कहा, 'मेरा मानना है कि वीडियो की आवाज मेरे भाई की आवाज से मिलती है, लेकिन वीडियो क्लिप को देखने के बाद मैं पूरी तरह निश्चिंत नहीं हूं।' उन्होंने कहा, 'मैं विश्वास नहीं कर सकती। यह मुझे आहत करने वाला है। मैं नहीं जानती कि पहचान की पुष्टि के लिए अधिकारी क्या कर रहे हैं। मुझे यह जानने की जरूरत है कि क्या ऐसा है।' कोनिका ने कहा, 'वह बहुत खुशमिजाज लड़का था। यह विश्वास करना कठिन है, लेकिन मुझे लगता है कि वह अब भी ऐसा ही होगा। मुझे यकीन है कि वह अब भी उसी तरह का इंसान हो सकता है।'

धर के एक पुराने कारोबारी साथी ने कहा है कि उसे कोई संदेह नहीं है कि यह आवाज धर की है। गौरतलब है कि आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप में ब्रिटिश पुलिस ने धर को गिरफ्तार किया था, लेकिन उसे जमानत मिल गई थी और उस दौरान वह सीरिया जाने में कामयाब रहा।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement