UN में भारत की पाकिस्तान को लताड़- हमारे खिलाफ झूठ फैलाना बंद करें, कोई भी आपकी बात मानने को तैयार नहीं

भारत (India) ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UN Security Council) की खुली बहस में एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को जमकर लताड़ा.

UN में भारत की पाकिस्तान को लताड़- हमारे खिलाफ झूठ फैलाना बंद करें, कोई भी आपकी बात मानने को तैयार नहीं

सैयद अकबरुद्दीन UN में भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • UN में भारत ने पाकिस्तान को दिखाया आईना
  • सैयद अकबरुद्दीन ने PAK को सुनाई खरी-खरी
  • 'कोई भी आपके झूठ को मानने को तैयार नहीं'
न्यूयॉर्क:

भारत (India) ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UN Security Council) की खुली बहस में एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को जमकर लताड़ा. UN में भारतीय राजदूत सैयद अकबरुद्दीन (Syed Akbaruddin) ने कहा कि पाकिस्तान को भारत के खिलाफ झूठ फैलाना बंद कर देना चाहिए. वह भारत के खिलाफ झूठी कहानियां गढ़ता है. ऐसा कर वह अपनी परेशानी को छुपाने की कोशिश करता है. आज पाकिस्तान बुराई का प्रतीक बन चुका है. बहस के दौरान सैयद अकबरुद्दीन ने आतंकवाद के लिए भी पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया.

सैयद अकबरुद्दीन ने कहा, 'पाकिस्तान को मेरी साधारण सी प्रतिक्रिया ये है कि अब उन्हें अपनी हरकतों से बाज आ जाना चाहिए. हालांकि अब देर हो चुकी है लेकिन फिर भी उन्हें अपने झूठ और इसके प्रचार-प्रसार से बचना चाहिए, क्योंकि अब उनके द्वारा फैलाए जा रहे झूठ को दुनिया में कहीं भी जगह नहीं मिल रही है.' सैयद अकबरुद्दीन ने वहां यह बयान उस समय दिया जब पाकिस्तान के मुनीर अकरम ने जम्मू-कश्मीर के हालातों को लेकर भारत पर हमला बोला. उन्होंने आरोप लगाया कि भारत घाटी में सब कुछ सामान्य होने के झूठे दावे कर रहा है.

PAK पीएम इमरान खान के भांजे को जेल जाने से पहले ही मिली जमानत, दंगे की फुटेज में आए थे नजर

सैयद अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान को लताड़ते हुए सुरक्षा परिषद में थोड़े बहुत बदलाव की भी बात कही. उन्होंने कहा कि वर्तमान में यह माना जा रहा है कि सुरक्षा परिषद अपनी पहचान और वैधता के संकट का सामना कर रहा है. परिषद की कार्यक्षमता पर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं. मौजूदा समय में दुनिया की वर्तमान हकीकत, विश्वनीयता और वैधता की दृष्टि से परिषद में बदलाव की जरूरत है. परिषद को 21वीं सदी के मुताबिक खुद को बदलने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि सुरक्षा परिषद को दुनिया की वर्तमान स्थिति का प्रतिनिधि होना चाहिए और सभी देशों के सामने खड़ी चुनौतियों से निपटना चाहिए. बतातें चलें कि अमेरिका समेत 17 देशों के विदेशी राजनयिक गुरुवार से जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं.

VIDEO: आतंक खत्म किए बिना बात नहीं : सैयद अकबरुद्दीन

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com