NDTV Khabar

ब्रिटेन में एक और भारतीय छात्र पर हमला, हालत गंभीर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ब्रिटेन में एक और भारतीय छात्र पर हमला, हालत गंभीर

खास बातें

  1. लंदन में हैदराबाद निवासी एक 26 वर्षीय छात्र पर शुक्रवार रात कुछ अज्ञात लोगों ने हमला कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया।
हैदराबाद/नई दिल्ली:

लंदन में हैदराबाद निवासी एक 26 वर्षीय छात्र पर शुक्रवार रात कुछ अज्ञात लोगों ने हमला कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया। इस बीच विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने ब्रिटेन में भारतीय राजदूत से बातचीत की और घायल छात्र की हरसंभव सहायता करने को कहा है।

पिछले दो महीने में ब्रिटेन में भारतीयों पर हमले की यह चौथी घटना है। पिछली तीन घटनाएं जानलेवा साबित हुई थीं।

स्कॉटलैंड यार्ड प्रशासन का कहना है कि इस हमले के सिलसिले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

हैदराबाद में परिजनों ने बताया कि लंदन के एक व्यावसायिक कॉलेज में एमबीए के छात्र प्रवीण रेड्डी को न्यू हैम्पशायर स्थित उसके फ्लैट में कुछ लोगों ने कथित तौर पर चाकू मार दिया।

शहर के बाहरी इलाके एलबी नगर में रहने वाले परिजनों ने बताया कि उन्हें अस्पताल प्रशासन से घटना के विषय में सूचना मिली। अस्पताल प्रशासन ने उन्हें तुरंत लंदन आने के लिए कहा है। छात्र के पिता सुधाकर रेड्डी ने आंध्र प्रदेश सरकार से परिजनों को वीजा दिलाने में सहायता करने की प्रार्थना की है।


आंध्र प्रदेश के दो छात्र समूहों के बीच किसी मुद्दे पर विवाद को इस हमले का कारण माना जा रहा है।

उधर, विदेश मंत्री कृष्णा ने कार्यवाहक उच्चायुक्त राजेश प्रसाद से बातचीत की और उन्हें घायल छात्र की हरसंभव सहायता करने का निर्देश दिया।

सरकार के सूत्रों ने नई दिल्ली में बताया कि कृष्णा ने घायल छात्र के पिता से भी बातचीत की और उन्हें वीजा दिलाने में पूरा सहयोग का आश्वासन दिया।

टिप्पणियां

सूत्रों ने बताया कि ब्रिटेन में उच्चायोग के अधिकारी प्रवीण का उपचार कर रहे चिकित्सकों के साथ समन्वय स्थापित किए हुए हैं। विदेश मंत्रालय ने घायल छात्र के माता-पिता को जल्द वीजा दिलाने के लिए यह मुद्दा नई दिल्ली स्थित ब्रिटिश उच्चायोग के समक्ष रखने की योजना बनाई है।

दूसरी ओर, ब्रिटेन ने कहा कि वह किसी भी तरह की हिंसा के खिलाफ ‘बहुत गंभीर’ है तथा भारतीयों को आश्वस्त किया कि उनका मुल्क सुरक्षित देश बना रहेगा। नई दिल्ली में नियुक्त ब्रिटिश उच्चायुक्त जेम्स बेवन ने यह आश्वासन दिया।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement