NDTV Khabar

पेकिंग यूनिवर्सिटी ने योग पर रिसर्च के लिए चीन में भारतीय योग केंद्र से किया गठजोड़

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेकिंग यूनिवर्सिटी ने योग पर रिसर्च के लिए चीन में भारतीय योग केंद्र से किया गठजोड़
बीजिंग:

चीन की प्रतिष्ठित पेकिंग यूनिवर्सिटी ने प्राचीन भारतीय व्यायाम विधा योग पर रिसर्च करने के लिए एक भारतीय एवं उसकी चीनी पत्नी द्वारा स्थापित किए गए एक जाने माने योग केंद्र को चुना है।

मोहन सिंह भंडारी ने बताया कि इस संबंध में यूनिवर्सिटी के साथ समझौता पत्र पर हस्ताक्षर कर लिए गए हैं। भंडारी ने वर्ष 2003 में ‘योगी योग’ केंद्र स्थापित किया था।

उन्होंने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है जब कोई चीनी विश्वविद्यालय योग पर रिसर्च करने के लिए आगे आया है। उन्होंने बताया कि इस रिसर्च कार्यक्रम में योगी योग द्वारा प्रशिक्षित स्थानीय अध्यापक हिस्सा लेंगे।

भंडारी ने अपनी पत्नी यिनयान के साथ मिलकर केंद्र की स्थापना की थी जो पूरे चीन में बहुत लोकप्रिय हो गया है। यिनयान एले मैगजीन की संपादक भी रह चुकी हैं।

भंडारी ने बताया कि इस समय इस केंद्र के 20,000 से अधिक छात्र हैं जिनमें योग शिक्षक का प्रशिक्षण लेने वाले भी शामिल हैं।


टिप्पणियां

यह केंद्र बीजिंग में भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित योग कार्यक्रमों में सक्रिय भूमिका निभाता है। चीन में पिछले कुछ वर्षों में योग काफी लोकप्रिय हुआ है। चीन में हजारों लोग 21 जून को संयुक्त राष्ट्र योग दिवस के मद्देनजर योग कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं। चीन ने पिछले साल भारत के सहयोग से पहला योग कॉलेज स्थापित किया था।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement