NDTV Khabar

डोनाल्ड ट्रंप की रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने वाले विधेयक पर हस्ताक्षर करने की मंशा

पुतिन के अमेरिकी राजनयिकों की संख्या में कटौती के आदेश के बाद अपने विकल्पों की समीक्षा कर रहा है अमेरिका

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोनाल्ड ट्रंप की रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने वाले विधेयक पर हस्ताक्षर करने की मंशा

रूस द्वारा अमेरिकी राजनयिकों की संख्या में कटौती के आदेश पर अमेरिका अपने विकल्पों की समीक्षा कर रहा है.

खास बातें

  1. पुतिन ने अमेरिकी दूतावास से 755 कर्मियों की कटौती की
  2. अमेरिका के प्रतिबंधों वाले विधेयक के जवाब में रूस का कदम
  3. अमेरिकी अधिकारी ने रूस के कदम को खेदजनक बताया
वाशिंगटन: रूस का अपने देश में अमेरिकी राजनयिकों की संख्या में कटौती के आदेश के बाद अमेरिका अपने विकल्पों की समीक्षा कर रहा है और इन सबके बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अब भी रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने वाले विधेयक पर हस्ताक्षर करने की मंशा है.

यह भी पढ़ें- 755 अमेरिकी राजनयिकों को रूस से हटना होगा: व्लादिमीर पुतिन

व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा हुकाबी सैंडर्स ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के अमेरिकी दूतावास से अपने 755 स्थानीय और अमेरिकी कर्मियों की संख्या में कटौती करने के बारे में कल संवाददाताओं के सवालों का कोई खास जवाब नहीं दिया.

यह भी पढ़ें- सीनेट की मंजूरी के बाद रूस और उत्तर कोरिया पर कड़े प्रतिबंध संबंधी विधेयक ट्रंप के पास पहुंचा

टिप्पणियां
विदेश विभाग के एक अधिकारी ने नाम न बताते हुए रूस के इस कदम को ‘‘खेदजनक’’ बताया. हालांकि ट्रंप ने रूस के कदम के विरोध में कोई ट्वीट नहीं किया जैसा कि वह अक्सर करते हैं. ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिका के प्रतिबंधों वाले विधेयक के जवाब में रूस ने यह कदम उठाया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement