NDTV Khabar

ईरान का मिसाइल कार्यक्रमों पर वार्ता से इनकार

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने उन रिपोर्टों को खारिज कर दिया, जिनमें कहा गया है कि ईरान अपने बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को लेकर छह वैश्विक शक्तियों से वार्ता के लिए तैयार है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ईरान का मिसाइल कार्यक्रमों पर वार्ता से इनकार

ईरान का मिसाइल कार्यक्रमों पर वार्ता से इनकार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. ईरान ने किया मिसाइल कार्यक्रम पर बातचीत करने से इनकार
  2. अमेरिका ने ईरान के मिसाइल परीक्षण पर लगाया है प्रतिबंध
  3. बहराम कासेमी ने कहा कि मिसाइल कार्यक्रमों को आगे बढ़ाना ईरान का अधिकार
तेहरान: ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने उन रिपोर्टों को खारिज कर दिया, जिनमें कहा गया है कि ईरान अपने बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को लेकर छह वैश्विक शक्तियों से वार्ता के लिए तैयार है. सिन्हुआ के मुताबिक, एक समाचार एजेंसी ने विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासेमी के हवाले से बताया कि ईरान ने बार-बार इसका ऐलान किया है कि उसके रक्षा कार्यक्रमों पर कभी भी वार्ता नहीं होगी.

यह भी पढ़ें: अमेरिका की चेतावनी के बावजूद ईरान ने किया मिसाइल परीक्षण, 2000 किमी है मारक क्षमता

टिप्पणियां
ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासेमी ने कहा कि मिसाइल कार्यक्रमों को आगे बढ़ाना ईरान का अधिकार है और वह अपने रणनीतिक एवं पारंपरिक रक्षा कार्यक्रमों के तहत इसे जारी रखेगा. गौरतलब है कि शुक्रवार को पश्चिमी देशों की मीडिया ने किसी अज्ञात सूत्र के हवाले से बताया था कि ईरान ने छह वैश्विक शक्तियों से कहा है कि वह अपनी बैलिस्टिक मिसाइलों पर चर्चा करने को तैयार है.

VIDEO: भारत और ईरान के बीच हुए 12 करार
ईरान और अमेरिका के बीच ईरान के मिसाइल कार्यक्रम को लेकर तनाव बना हुआ है. बीते कुछ महीनों में अमेरिका ने ईरान के मिसाइल परीक्षणों से संबद्ध कुछ ईरानी और अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए. ईरान की सेना और सरकारी अधिकारियों ने सर्वसम्मति से बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रम को बढ़ाने की प्रतिबद्धता जताई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement