ईरान ने विकसित किया 'आत्मघाती ड्रोन', जल और जमीन पर लक्ष्‍य भेदने में सक्षम

ईरान ने विकसित किया 'आत्मघाती ड्रोन', जल और जमीन पर लक्ष्‍य भेदने में सक्षम

खास बातें

  • समुद्री निगरानी के लिए किया गया विकास
  • मिसाइलों से लैस नहीं किया जाएगा
  • भारी मात्रा में विस्‍फोटक ले जाने में सक्षम
तेहरान:

ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने बुधवार को कहा कि उन लोगों ने एक 'आत्मघाती ड्रोन' विकसित किया है, जो समुद्र और धरती पर लक्ष्‍यों को उड़ाने के लिये विस्फोटक ले जाने में सक्षम है.

गार्ड के करीबी सूत्रों के मुताबिक ड्रोन का विकास मुख्य रूप से समुद्री निगरानी के लिए किया गया है और मिसाइलों से लैस करने के लिए इसका विकास नहीं किया गया है. इसके मुताबिक आत्मघाती हमला करने के लिए यह भारी मात्रा में विस्फोटक ले जाने में सक्षम है.

समाचार एजेंसी तसनीम के मुताबिक, ''जल की सतह पर बहुत अधिक गति से उड़ने में सक्षम यह ड्रोन निशाने को टक्कर मारने और उसको खत्म करने में सक्षम है, चाहे वो पोत हो या तटवर्ती कमान केंद्र.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एजेंसी की खबर के मुताबिक ड्रोन को जल की सतह से आधा मीटर की ऊंचाई पर 250 किमी प्रति घंटे के रफ्तार से उड़ान भरने में सक्षम हो, इस उद्देश्य के साथ डिजाइन किया गया था. न्यूज एजेंसी ने भूमि पर खड़े ड्रोन की तस्वीर दी है लेकिन उड़ते हुए इसकी तस्वीर साझा नहीं की गई है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)