इमरान खान ने ISI के तारीफों के पुल बांधे, पाकिस्तान की 'फर्स्ट डिफेंस लाइन' बताया

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान पहली बार शक्तिशाली जासूसी एजेंसी आईएसआई के मुख्यालय गए और उसे देश की 'फर्स्ट डिफेंस लाइन' बताया.

इमरान खान ने ISI के तारीफों के पुल बांधे, पाकिस्तान की 'फर्स्ट डिफेंस लाइन' बताया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान. (फाइल फोटो)

इस्लामाबाद:

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पहली बार शक्तिशाली जासूसी एजेंसी आईएसआई (ISI) के मुख्यालय गए और उसे देश की 'फर्स्ट डिफेंस लाइन' बताया. एक आधिकारिक बयान के अनुसार 'इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस' (आईएसआई) के वरिष्ठ अधिकारियों ने बुधवार को वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों के साथ इमरान खान को विभिन्न सामरिक खुफिया और राष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के बारे में विस्तार से जानकारी दी.

यह भी पढ़ें : इमरान खान की पूर्व पत्नी ने पाकिस्तान सरकार पर साधा निशाना, कट्टरपंथियों के आगे झुकने का लगाया आरोप

सेना के मीडिया प्रकोष्ठ 'इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस' (आईएसपीआर) द्वारा जारी एक बयान के अनुसार प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए, खासकर आतंकवाद विरोधी प्रयासों में आईएसआई के योगदान की सराहना की. उन्होंने कहा कि आईएसआई रक्षा की हमारी पहली पंक्ति है और दुनिया की सर्वश्रेष्ठ खुफिया एजेंसी के रूप में काम कर रही है.

VIDEO : नए दौर में सुधरेंगे भारत-पाक रिश्‍ते?

खान ने आईएसआई के अधिकारियों से कहा कि उनकी सरकार और पाकिस्तान के लोग सशस्त्र बलों और खुफिया एजेंसियों के पीछे दृढ़ता से खड़े हैं. उन्होंने इन संस्थानों की 'अभूतपूर्व उपलब्धियों' की सराहना की.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com