विशाखापत्तनम में गैस रिसाव के पीड़ितों के परिवारों के प्रति इजराइल ने जताई गहरी सहानुभूति

जराइल के विदेश मंत्री इजराइल कात्ज ने एक ट्वीट में कहा, ‘विशाखापत्तनम में हुए गैस रिसाव के पीडि़तों के परिवारों के प्रति मेरी सहानुभूति है. मैं इसके प्रभावितों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

विशाखापत्तनम में गैस रिसाव के पीड़ितों के परिवारों के प्रति इजराइल ने जताई गहरी सहानुभूति

प्रतीकात्मक तस्वीर

यरूशलम:

इजराइल ने विशाखापत्तनम में हुए गैस रिसाव के पीड़ितों के परिवारों के प्रति गुरुवार को गहरी सहानुभूतति जताई और प्रभावितों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की. इजराइल के विदेश मंत्री इजराइल कात्ज ने एक ट्वीट में कहा, ‘विशाखापत्तनम में हुए गैस रिसाव के पीडि़तों के परिवारों के प्रति मेरी सहानुभूति है. मैं इसके प्रभावितों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.' उन्होंने कहा, ‘इस वक्त इजराइल के लोगों के विचार एवं प्रार्थनाएं विशाखापत्तनम के लोगों, (विदेश मंत्री) डॉ. एस. जयशंकर तथा आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ हैं.' बता दें, आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात करीब ढाई बजे एक रसायन संयंत्र में स्टाइरीन गैस रिसाव होने से 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 1000 अन्य प्रभावित हुए हैं.

दूसरी ओर राज्य के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने एल जी पॉलीमर लिमिटेड में हुए गैस रिसाव की घटना में मरने वाले प्रत्येक व्यक्ति के परिवार को एक-एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि देने की बृहस्पतिवार को घोषणा की. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने इस घटना में 11 लोगों की मौत होने की बात कही है. मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की है कि एक समिति इस घटना की जांच करेगी. साथ ही राज्य सरकार एल जी पॉलीमर प्रबंधन से बात कर मृतक के परिजन को नौकरी देने की मांग करेगी. रेड्डी ने एक समीक्षा बैठक करने के बाद यह भी घोषणा की कि जो भी लोग इलाज के दौरान वेंटिलेटर पर हैं उन्हें 10 लाख रुपये दिए जाएंगे, जबकि गैस रिसाव के चलते स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करने के बाद बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) में इलाज कराने वालों को 25,000 हजार रुपये दिए जाएंगे.

विजाग में गैस लीक की दुर्घटना के बाद, सुरक्षा मानकों के उल्लंघन के लिए कार्रवाई किए जाने की मांग 

इससे पहले उन्होंने आंध्र मेडिकल कॉलेज में जिलाधिकारी विनय चंद एवं अन्य के साथ एक समीक्षा बैठक की. मुख्यमंत्री ने कहा कि गैस लीक के चलते विभिन्न अस्पतालों में इलाज करा रहे लोगों को एक-एक लाख रुपये दिए जाएंगे. गैस लीक से प्रभावित हुए पांच गांवों की 15,000 आबादी (में प्रत्येक व्यक्ति) को दस-दस हजार रुपये दिए जाएंगे. रेड्डी ने भविष्य में इस तरह के हादसों को रोकने से जुड़ी सिफारिशें करने के लिये विशेष मुख्य सचिव (पर्यावरण एवं वन) की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति गठित करने की भी घोषणा की.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com