भारत-चीन के बीच जारी तनाव पर थीं पूरी दुनिया की नजरें, अब इजराइल ने बनाई पश्चिमी तट को मिलाने की योजना

एक ओर जहां पूरी दुनिया की नजरें भारत और चीन के बीच जारी तनाव पर हैं तो दूसरी ओर अब इजराइल के एक कदम से पूरी दुनिया में अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. दरअसल इजराइल ने अब  योजना बनाई है कि वह पश्चिमी तट के कब्जे वाले हिस्सों को अपनी सीमा मिला लेगा.

भारत-चीन के बीच जारी तनाव पर थीं पूरी दुनिया की नजरें, अब इजराइल ने बनाई पश्चिमी तट को  मिलाने की योजना

नई दिल्ली :

एक ओर जहां पूरी दुनिया की नजरें भारत और चीन के बीच जारी तनाव पर हैं तो दूसरी ओर अब इजराइल के एक कदम से पूरी दुनिया में अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. दरअसल इजराइल ने अब  योजना बनाई है कि वह पश्चिमी तट के कब्जे वाले हिस्सों को अपनी सीमा मिला लेगा. इस इलाके को लेकर फलस्तीन से उसका विवाद जारी है.  भारत ने गुरुवार को कहा कि इजराइल और फलस्तीन को सीधे बातचीत के जरिए अपने मुद्दों को हल करना चाहिए और शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व के लिए स्वीकार्य "दो-राज्य का समाधान" खोजना चाहिए. 

Newsbeep

भारत की यह प्रतिक्रिया पश्चिमी तट के कब्जे वाले हिस्सों को मिलाने की इजराइल की योजना को लेकर इजराइल-फलस्तीन संघर्ष पर आयी है.  इजराइल की योजना के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, "इस संबंध में हमारी स्थिति बहुत स्पष्ट है और मैं फिर से कहना चाहूंगा कि अंतिम स्थिति के मुद्दों का हल दोनों पक्षों के बीच सीधी बातचीत के जरिए किया जाना चाहिए. "

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, "हम दोनों पक्षों से शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व के लिए दो राज्यों का स्वीकार्य समाधान खोजने की खातिर एक-दूसरे से संवाद करने का आग्रह करते हैं." इजराइल ने अपनी योजना जनवरी में सार्वजनिक की थी जिसके तहत करीब 30 प्रतिशत क्षेत्र को स्थायी इजराइली नियंत्रण में लाने की परिकल्पना की गयी है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)