NDTV Khabar

लगातार बढ़ रहा था उसका वजन, सर्जरी के बाद निकला तरबूज के आकार का ट्यूमर

कायला रान को जो पता लगा उसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे. दरअसल, कायला प्रैगनेंट नहीं थी, बल्कि उनकी ओवरी में तरबूज के आकार का सिस्ट (एक प्रकार का ट्यूमर) पल रहा था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लगातार बढ़ रहा था उसका वजन, सर्जरी के बाद निकला तरबूज के आकार का ट्यूमर

कायला रान का कहना है कि सर्जरी के बाद उनका 75 पाउंड वजन घटा है.

वाशिंगटन : कायला रान कई महीनों से पेट दर्द से परेशान थीं. सूजन के साथ-साथ उन्हें सांस लेने में भी तकलीफ होने लगी थी. उनका वजन लगातार बढ़ता जा रहा था और इसे कम करना असंभव लग रहा था. लोग उनसे पूछने लगे थे कि क्या वे प्रैगनेंट हैं? काफी लोगों को तो लग रहा था कि उनके पेट में शायद जुड़वा बच्चे हैं. जब डिलीवरी का समय नजदीक आया तो लोगों ने घरेलू सामान आदि लाने में उनकी मदद भी की, लेकिन हाल ही में कायला रान को जो पता लगा उसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे. दरअसल, कायला प्रैगनेंट नहीं थी, बल्कि उनकी ओवरी में तरबूज के आकार का सिस्ट (एक प्रकार का ट्यूमर) पल रहा था. जैसे-जैसे यह बड़ा हो रहा था शरीर के अन्य अंगों को दबा रहा था, जो जानलेवा साबित हो सकता था. 

यह भी पढ़ें : ब्रेन ट्यूमर: यहीं खत्म नहीं होता सफर, जी सकते हैं लंबी जिंदगी

मई में सर्जरी के जरिये कायला रान की ओवरी और 50 पाउंड (करीब 23 किलो) का सिस्ट निकाल दिया गया. डॉक्टरों का कहना है कि उन्होंने अब तक इतना बड़ा सिस्ट नहीं देखा था. अलबामा के जैकसन हॉस्पिटल के अधिकारियों ने इस सप्ताह सर्जरी के बारे में जानकारी दी. कहा कि कायला रान की ओवरी में सिस्टिक ट्यूमर था और इसे निकाल दिया गया है. उनके सर्जन का कहना है कि, 'हम लोग उत्साहित हैं क्योंकि सारी चीजें अच्छी रहीं'. दूसरी तरफ, कायला रान का कहना है कि सर्जरी के बाद उनका करीब 75 पाउंड वजन घट गया है. वह कहती हैं कि, 'यह कोई हल्की सर्जरी नहीं थी. कई बार मैं दर्द से तड़प उठी, लेकिन मेरे आसपास सपोर्ट करने वाले लोग थे इसलिये कोई चिंता नहीं हुई'.
 
wp  kayla rahn
कायला रान के पेट में तरबूजे के आकार का ट्यूमर था, जो अन्य अंगों को प्रभावित कर रहा था.

यह भी पढ़ें : ब्रेन ट्यूमर: यहीं खत्म नहीं होता सफर, जी सकते हैं लंबी जिंदगी

टिप्पणियां
कायला रान कहती हैं कि मैं लगातार स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से परेशान थी और कोई हल नहीं निकल रहा था. इसके बाद मेरी मां मुझे नजदीकी जैक्सन हॉस्पिटल के इमरजेंसी में ले गईं. वहां पहले तो डॉक्टरों ने बताया कि उनके पेट में कुछ ठोस दिख रहा है. बाद में बताया कि पेट नहीं बल्कि ओवरी में हैं और इसे तत्काल निकालना पड़ेगा. वह कहती हैं कि, 'मुझे याद है कि मैं जब भी इसके बारे में बात करती तो चीख पड़ती'. 30 वर्षीय कायला रान वाशिंगटन पोस्ट से बात करते हुए अपने शुरुआती दिनों के अनुभवों को साझा करती हैं. वह कहती हैं कि जब लोग मुझसे प्रैगनेंसी को लेकर तरह-तरह के सवाल करते थे तो मैं भी मजाक में उन्हें कहती कि 'मैं इसका नाम टैको-बेल रखने जा रही हूं'. 

यह भी पढ़ें : विश्व में रोबोट के जरिये की गई पहली सर्जरी, निकाला गया दुर्लभ किस्म का ट्यूमर
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement