जेल में बंद सऊदी अरब की राजकुमारी को कोरोनावायरस से संक्रमित होने का खतरा

बीते एक साल से जेल में बंद सऊदी अरब की राजकुामारी बास्मा बिंत को कोरोनावायरस से संक्रमित होने का खतरा.

जेल में बंद सऊदी अरब की राजकुमारी को कोरोनावायरस से संक्रमित होने का खतरा

सऊदी अरब की राजकुमारी बास्मा बिंत (Basmah Bint)

लंदन:

बिना किसी आरोप के जेल में बंद राजकुमारी बास्मा बिंत की दया याचिका सऊदी के शासकों के पास एक साल बाद भी लंबित है और सलाखों के पीछे ही कोरोनावायरस से संक्रमित हो जाने के डर से राजकुमारी ने वो किया जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता. 56 वर्षीय शाही परिवार की सदस्य राजकुमारी बास्मा बिंत सऊद लंबे समय से महिलाओं के अधिकारों और एक संवैधानिक राजतंत्र के प्रस्तावक के रूप में देखी जाती हैं, जो पिछले साल मार्च में सार्वजनिक जीवन से रहस्यमय तरीके से गायब हो गई थीं.

बीते महीने राजकुमारी के ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट के माध्यम से पत्र में दावा किया गया था कि बिना किसी आरोप के उन्हें उनकी 28 वर्षीय बेटी सुहौद अल-शरीफ के साथ कैद कर दिया गया है. ट्वीट में उन्होंने वहां के सुल्तान सलमान और उनके शक्तिशाली पुत्र मोहम्मद बिन सलमान से जेल से निकालने के लिए मदद की गुहार भी लगाई थी. हालांकि बाद में बताया गया कि यह ट्वीट फर्जी है और किसी ने इसे हैक कर लिया था. 

उस पत्र में राजशाही परिवार के कई शक्तिशाली सदस्यों से भी मदद की गुहार लगाई गई थी, जिसमें राजकुमारी ने अपने स्वास्थ्य के बारे में चिंता जाहिर की थी. बता दें कि रियाद स्थित अल-हायर जेल में उन्हें रखा गया है जो काफी कुख्यात है. यहां पर खुंखार आतंकियों और राजनीतिक कैदियों को रखा जाता है. हालांकि उस ट्वीट को एक घंटे बाद ही डिलीट कर दिया गया था.

राज परिवार से जुड़े दो सूत्रों ने न्यूज एजेंसी AFP को बताया कि राजकुमारी का ट्विटर अकाउंट कुछ समय के लिए सऊदी अरब के अज्ञात लोगों ने हैक कर लिया था. एक सूत्र ने बताया कि इस ट्वीट के बाद न तो राजकुमारी की कोई खबर है और न ही उनकी बेटी की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

परिवार के कई सदस्यों को उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता हो रही है, क्योंकि इस बात की आशंका जताई जा रही है कि अल-हयार जेल के अंदर कोरोनावायरस फैल रहा है. परिवार के एक सदस्य को राजकुमारी की बेटी सुहौद ने साप्ताहिक टेलीफोन कॉल में बताया कि जेल के अधिकारी इस तरह का व्यवहार कर रहे हैं जैसे जेल के अंदर कोरोनावायरस फैल रहा है.

जेल के कुछ कर्मचारियों ने अलग से इस बात को कबूल किया कि कोविड-19 के कुछ मामले अल-हयार जेल के अंदर हैं. हालांकि सऊदी अरब के किसी भी अधिकारी ने इस मुद्दे पर कोई भी टिप्पणी नहीं की है. बता दें कि सऊदी अरब में कोरोनावायरस के 25 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)