एफबीआई के पूर्व निदेशक जेम्स कोमी ने सहकर्मियों को पत्र लिखा

कोमी ने कहा कि वह उन्हें पद से हटाए जाने के फैसले या ‘इस फैसले पर अमल किए जाने के तरीके’ पर बात नहीं करना चाहते.

एफबीआई के पूर्व निदेशक जेम्स कोमी ने सहकर्मियों को पत्र लिखा

जेम्स कोमी की तस्वीर

खास बातें

  • कोमी को दरअसल एक दिन पहले अनौपचारिक ढंग से पद से हटा दिया गया था
  • कोमी ने कहा कि वह पद से हटाए जाने के फैसले पर बात नहीं करना चाहते
  • राष्ट्रपति पहले ही दिन से कोमी को हटाने के बारे में सोच रहे थे
वाशिंगटन:

एफबीआई के पूर्व निदेशक जेम्स कोमी ने एजेंसी में अपने सहकर्मियों को लिखे विदाई पत्र में कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उन्हें किसी भी कारण के चलते या ‘बेवजह’ इस पद से हटा देने का अधिकार है. कोमी को दरअसल एक दिन पहले अनौपचारिक ढंग से पद से हटा दिया गया था.
 
कोमी ने कहा कि वह उन्हें पद से हटाए जाने के फैसले या ‘इस फैसले पर अमल किए जाने के तरीके’ पर बात नहीं करना चाहते. ईमेल में लिखे गए अपने विदाई पत्र में कोमी ने कहा, ‘यह हो गया है. मैं ठीक हो जाऊंगा. हालांकि मुझे आपकी और इस मिशन की बेहद याद आएगी.’ इस ईमेल के बारे में सबसे पहली खबर सीएनएन ने दी.
 
वहीं, सदन के स्पीकर पॉल रेयान ने कोमी को हटाए जाने के राष्ट्रपति के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि कई रिपब्लिकन, डेमोक्रेट और न्याय मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी उनमें विश्वास खो चुके थे. एफबीआई के इस पद के 10 साल के कार्यकाल में कोमी तीसरे साल अपनी सेवाएं दे रहे थे. तभी अचानक ट्रंप ने उन्हें पद से हटा दिया. व्हाइट हाउस ने कल कहा कि वह ट्रंप का विश्वास खो चुके थे और राष्ट्रपति पहले ही दिन से कोमी को हटाने के बारे में सोच रहे थे.
 
व्हाइट हाउस की बात को दोहराते हुए रेयान ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के अभियान और रूस के बीच के रिश्तों की पड़ताल करने के लिए विशेष अभियोजक की नियुक्ति करना एक खराब विचार था.
 
कोमी ने लिखा, ‘मैं लंबे समय से मानता आया हूं कि एक राष्ट्रपति एफबीआई के निदेशक को किसी भी वजह से या बेवजह भी, पद से हटा सकते है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com