जॉनसन एंड जॉनसन ने बंद किया COVID-19 वैक्सीन का ट्रायल, बताई यह वजह 

COVID-19 Vaccine Trial: Johnson & Johnson ने बयान में कहा, "हमने अपने Covid-19 वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए वॉलेंटियर्स को दी जाने वाली आगे की खुराक फिलहाल के लिए रोक दी है.

जॉनसन एंड जॉनसन ने बंद किया COVID-19 वैक्सीन का ट्रायल, बताई यह वजह 

Johnson & Johnson COVID-19 Vaccine Trial: जॉनसन एंड जॉनसन ने COVID वैक्सीन के ट्रायल को अस्थायी रूप से रोका (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दुनियाभर में कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमितों का आंकड़ा चार करोड़ के करीब पहुंच गया है. कोरोना के टीके (Covid Vaccine) की खोज के लिए विभिन्न देशों में परीक्षण चल रहा है. इस बीच, अमेरिका की चिकित्सा उपकरण विनिर्माता कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson Covid-19 Vaccine) ने कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को फिलहाल रोक दिया है. Johnson & Johnson ने सोमवार को कहा कि वह COVID-19 वैक्सीन के ट्रायल को अस्थायी रूप से रोक रहा है क्योंकि उसके प्रतिभागियों में से एक व्यक्ति बीमार हो गया है. 

कंपनी ने बयान में कहा, "हमने अपने Covid-19 वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए प्रतिभागियों को दी जाने वाली आगे की खुराक फिलहाल के लिए रोक दी है. इसमें फेज 3 का ट्रायल भी शामिल है. शोध के दौरान एक प्रतिभागी के बीमार होने की वजह से यह कदम उठाया गया है." 

इस रोक का अर्थ है कि 60,000 मरीज़ों के क्लीनिकल ट्रायल के लिए ऑनलाइन नामांकन प्रणाली को बंद कर दिया गया है जबकि स्वतंत्र सेफ्टी कमेटी की बैठक बुलाई गई है. बता दें कि कोरोना महामारी के दौर में COVID-19 वैक्सीन की कमी महसूस की जा रही है. इसे देखते हुए दुनिया के विभिन्न देश शीर्ष दवा कंपनियों के साथ मिलकर टीका खोजने के लिए शोध कर रहे हैं.  

दिल्ली सरकार ने नगर निगमों से कहा, अस्पताल नहीं चला पा रहे तो हमें सौंप दें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दुनिया भर के 180 से ज्यादा देशों को कोरोनावायरस अपने चपेट में ले चुका है. दुनिया में COVID-19 संक्रमितों की कुल तादाद 3.74 करोड़ के पार पहुंच गई है. वहीं, 10.76 लाख मरीज़ इस वायरस की वजह से अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 2.60 करोड़ से ज्यादा मरीज़ कोरोनावायरस को मात देने में सफल हुए हैं. 

वीडियो: कोरोना के इलाज में मोनोक्लोनल एंटीबॉडी कितनी कारगर?