कमला हैरिस ने ट्रंप को सबसे नाकाम अमेरिकी राष्ट्रपति बताया, चीन के मुद्दे पर पेंस से भिड़ीं

अमेरिकी चुनाव में उप राष्ट्रपति पद को लेकर बुधवार रात डेमोक्रेट प्रत्याशी कमला हैरिस और रिपब्लिकन उम्मीदवार माइक पेंस के बीच जोरदार बहस देखने को मिली. भारतीय मूल की हैरिस ने डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी इतिहास में सबसे नाकाम राष्ट्रपति करार दिया.

कमला हैरिस ने ट्रंप को सबसे नाकाम अमेरिकी राष्ट्रपति बताया, चीन के मुद्दे पर पेंस से भिड़ीं

अमेरिका में उप राष्ट्रपति पद की डेमोक्रेट उम्मीदवार कमला हैरिस और रिपब्लिकन माइक पेंस

खास बातें

  • अमेरिका में उप राष्ट्रपति पद को लेकर कमला हैरिस और माइक पेंस में बहस
  • भारतीय मूल की कमला हैरिस डेमोक्रेटिक प्रत्याशी कमला हैरिस
  • कमला हैरिस ने डोनाल्ड ट्रंप को सबसे नाकाम राष्ट्रपति बताया
वाशिंगटन:

अमेरिकी चुनाव ( US President Election) में उप राष्ट्रपति पद को लेकर बुधवार रात डेमोक्रेट प्रत्याशी कमला हैरिस और रिपब्लिकन उम्मीदवार माइक पेंस के बीच चीन, कोरोना, जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर जोरदार बहस देखने को मिली. भारतीय मूल की हैरिस ने कोरोना से दो लाख से ज्यादा मौतों का उल्लेख करते हुए डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी इतिहास में सबसे नाकाम राष्ट्रपति करार दिया. हैरिस ने कहा कि ट्रंप दोबारा चुने जाने की हकदार कतई नहीं हैं.

ऊताह की सॉल्ट लेक सिटी में 90 मिनट तक दोनों नेताओं के बीच बहस चली. हैरिस ने दो टूक कहा कि अगर ट्रंप प्रशासन चुनाव के पहले ऐसा कोई टीका लाता है, जिसकी वैज्ञानिक पुष्टि नहीं करते हैं तो वह उसे ठुकरा देंगी. अगर डॉ. एंथनी फॉकी जैसे शीर्ष वैज्ञानिक सलाहकार टीके का समर्थन करते हैं, तो ही वह इसका पक्ष लेंगी. उन्होंने ट्रंप पर मित्रों को धोखा देने और तानाशाहों को गले लगाने का भी आरोप लगाया. वहीं उपराष्ट्रपति माइक पेंस ट्रंप का बचाव करते हुए कहा कि प्रेसिडेंट के कदमों ने सैकड़ों-हजारों अमेरिकियों की जान बचाई।

भारतीय मूल की हैरिस ने मां को याद किया

हैरिस ने कहा कि जब उन्हें उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने का प्रस्ताव मिला तो वह उनके जीवन का सबसे यादगार पल था। उन्होंने चेन्नई में पैदा हुईं अपनी मां श्यामला गोपालन का जिक्र करते हुए कहा, ‘मुझे मेरी मां की याद आई जो 19 साल की आयु में अमेरिका आई थीं।' हैरिस की मां का 2009 में निधन हो गया था। उन्होंने कहा कि आज उनकी मां होती तो बेहद गौरवान्वित होतीं.

चीन के मुद्दे पर जोरदार भिड़ंत

दोनों नेताओं के बीच चीन से जुड़े मुद्दे पर जोरदार भिड़ंत देखने को मिली. पेंस ने कहा कि ओबामा-बाइडेन के शासन में चीन से व्यापार घाटा रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया था. दोनों ने आर्थिक मामलों में चीन के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया था. बाइडेन दोबारा चुनाव जीते तो फिर यही करेंगे. हैरिस ने कहा कि ट्रंप प्रशासन के तहत अमेरिका चीन के साथ व्यापार युद्ध हार गया। इस पर पेंस ने सवाल दागा कि डेमोक्रेट बाइडेन तो कभी चीन से लड़े ही नहीं.

हैरिस ने टैक्स नहीं बढ़ाने का भरोसा दिया

पेंस ने आरोप लगाया कि बाइडेन और हैरिस कर में इजाफा करना चाहते हैं और अर्थव्यवस्था को ग्रीन न्यू डील के तहत दबा देना चाहते हैं. हैरिस ने भरोसा दिया कि राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बाइडेन सत्ता में आने पर कर नहीं बढ़ाएंगे. ग्रीन न्यू डील अमेरिका का एक प्रस्तावित पैकेज है, जिसका उद्देश्य जलवायु परिवर्तन और आर्थिक असमानता की समस्या से निपटना है.

कोरोना को लेकर चीन को जवाबदेह ठहराएंगे - पेंस

पेंस ने कहा कि हम चीन के साथ संबंध सुधारना चाहते हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण के लिए अमेरिका को नुकसान पहुंचाने को लेकर चीन को जवाबदेह ठहराएगा. चीन की गलतियों के कारण महामारी ने बड़े वैश्विक संकट का रूप लिया

दोबारा जलवायु परिवर्तन समझौते से जुड़ेंगे- हैरिस

हैरिस ने कहा कि बाइडेन प्रशासन जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते में शामिल होगा, जबकि ट्रंप प्रशासन विज्ञान में भरोसा ही नहीं करता। इस पर पेंस कहा कि जलवायु परिवर्तन हो रहा है और उनकी सरकार विज्ञान का अनुसरण करेगी.

Newsbeep

अश्वेतों के हक में बोलीं हैरिस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हैरिस ने कहा कि ट्रंप सरकार ने न्यायालय में जीवन भर कार्य कर सकने वाले 50 लोगों की नियुक्ति की, लेकिन इसमें एक भी अश्वेत नहीं था. उन्होंने अश्वेतों के साथ भेदभाव को लेकर पुलिस व्यवस्था एवं आपराधिक न्यायिक प्रणाली में सुधार की आवश्यकता पर बल दिया।



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)