NDTV Khabar

पाकिस्तान : कराची में चाकूबाज ने फैलाई दशहत, 10 से अधिक महिलाओं पर कर चुका है हमला

पाकिस्तान के कराची में एक चाकूबाज ने आतंक मचा रखा है. वह दो सप्ताह के भीतर 10 से अधिक महिलाओं पर चाकू से हमला कर चुका है.

58 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान : कराची में चाकूबाज ने फैलाई दशहत, 10 से अधिक महिलाओं पर कर चुका है हमला

प्रतीकात्मक चित्र

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के कराची में एक चाकूबाज ने आतंक मचा रखा है. वह दो सप्ताह के भीतर 10 से अधिक महिलाओं पर चाकू से हमला कर चुका है. 'डॉन' ने एक अधिकारी के हवाले से कहा कि वह युवतियों और बुजुर्ग महिलाओं पर हमले की वारदात को अंजाम दे रहा है. पुलिस अधिकारियों और अस्पतालों के मुताबिक सभी महिलाओं पर पीछे से हमला किया गया है और सभी के दाहिनी तरफ चोटें आईं हैं. तमाम कोशिशों के बावजूद इस शख्स को अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है. इसे लेकर कराची के लोगों के बीच भय और आक्रोश पैदा हो गया है. कराची के एक दैनिक अखबार ने कहा, 'कामकाजी महिलाएं भयभीत हैं, कई लोग बस स्टॉप पर जाने की बजाय रिक्शा और टैक्सी का सहारा ले रहे हैं. कराची यूनिवर्सिटी और हबीब यूनिवर्सिटी की छात्राएं अकेले आने-जाने से बच रही हैं.'

यह भी पढ़ें : पत्नी की हत्या करने वाली भारतीय-अमेरिकी को 20 साल की सजा, 40 बार किया था चाकू से वार

टिप्पणियां
पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस आरोपी को पकड़ना इतना आसान नहीं है. एक अधिकारी ने कहा, 'दो करोड़ की आबादी वाले एक शहर में, आप मोटरसाइकिल पर किसी अकेले शख्स को रोककर उसके पास हथियार है या नहीं इसकी जांच नहीं कर सकते. यह एक चुनौती है.' हाल ही में हमले में पीड़ित एक गृहिणी ने पुलिस को बताया कि एक मोटरसाइकिल पर हेलमेट डाले एक दुबला आदमी उनके पीछे से आया और हमला करने के बाद फरार हो गया. पाकिस्तान में इस तरह के हमलावर पहले भी रहे हैं. कुख्यात हथौड़ा समूह और छलावा गिरोह ने कराची के लोगों में 80 और 90 के दशक में आतंक फैलाया था, जिसमें पीड़ितों की खोपड़ी को फोड़ दिया जाता था. वहीं 90 के दशक के अंत में, कराची के एक बड़े शॉपिंग मॉल के बाहर आधे बाजू की शर्ट पहनने वाली महिलाओं के हाथों पर पुरुष द्वारा ब्लेड से हमला करने की खबरें आई थीं.

VIDEO : घर लौट रही लड़की को चाकू मारकर मौत के घाट उतारा
पंजाब प्रांत की मंत्री जिल्ले हुमा को 2007 में मार डाला गया था, क्योंकि उनके हत्यारे उनके कपड़े पहनने के तरीके से खुश नहीं थे. (इनपुट IANS से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement