NDTV Khabar

पैदल सीमा पार कर किम जोंग ने दक्षिण कोरिया की धरती पर रखा कदम, मून से मिलाया हाथ

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग ऐतिहासिक वार्ता के लिए शुक्रवार को दक्षिण कोरिया पहुंच गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पैदल सीमा पार कर किम जोंग ने दक्षिण कोरिया की धरती पर रखा कदम, मून से मिलाया हाथ

किम जोंग उन और मून जे इन (फाइल फोटो)

सियोल: उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग ऐतिहासिक वार्ता के लिए शुक्रवार को दक्षिण कोरिया पहुंच गए, जहां दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे इन ने उनसे मुलाकात की. खास बात यह है कि किम जोंग पैदल सीमा पर कर दक्षिण कोरिया की धरती पर पहुंचे हैं. इस तरह से देखा जाते तो किम जोंग उन 1953 में कोरियाई युद्ध के समाप्त होने के बाद से दक्षिण कोरिया की जमीन पर कदम रखने वाले उत्तर कोरिया के पहले नेता हैं.

खबरों के मुताबिक, दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने वार्ता शुरू होने से पहले सीमा पर किम जोंग से मुस्कुराकर बड़ी मुस्तैदी से हाथ मिलाया. किम जोंग ने सम्मेलन स्थल पर कहा कि उन्हें बेहतरीन चर्चा होने की उम्मीद है. यह ऐतिहासिक बैठक उत्तर कोरिया के उन संकेतों पर भी केंद्रित होगी, जिसमें किम जोंग ने अपने परमाणु हथियारों को छोड़ने की इच्छा जताई थी.

किम जोंग पैदल सीमा पार कर दक्षिण कोरिया की धरती पर रखेंगे कदम, अंतर कोरियाई सम्मेलन में लेंगे हिस्सा

किम जोंग और मून जे इन ने सीमा पर एक दूसरे से हाथ मिलाया. दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने पहले एक कदम उत्तर कोरियाई सीमा की ओर बढ़ाते हुए किम जोंग से कहा, "मुझे आपसे मिलकर खुशी हुई है." इसके बाद दोनों नेता दक्षिण कोरिया की तरफ पीस हाउस की ओर चले गए. 

टिप्पणियां
उत्तर कोरिया की ओर से नौ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में देश के ऑनरेरी अध्यक्ष किम योंग नैम, विदेश मंत्री री योंग हो और किम की बहन किम यो जोंग भी हैं. किम यो जोंग उत्तर कोरिया की वर्कर्स पार्टी के प्रोपेगैंडा एंड एजिटेशन डिपार्टमेंट की निदेशक हैं. किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया में शीतकालीन ओलम्पिक खेलों के दौरान सियोल का ऐतिहासिक दौरा भी किया था.


VIDEO: तानाशाह किम के मन में क्या है?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement