NDTV Khabar

'जान को खतरा बताते हुए' लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी ने इस्तीफा दिया

उनके इस कदम से पहले से ही राजनीतिक रूप से समस्याओं को सामना कर रहा देश नेतृत्वहीन हो गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'जान को खतरा बताते हुए' लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी ने इस्तीफा दिया

'जान को खतरा बताते हुए' लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी ने इस्तीफा दिया (File Photo)

बेरुत: लेबनान के प्रधानमंत्री साद हरीरी ने सऊदी अरब की अपनी यात्रा के दौरान अपने जीवन को खतरा बताते हुए अप्रत्याशित रूप से अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उनके इस कदम से पहले से ही राजनीतिक रूप से समस्याओं को सामना कर रहा देश नेतृत्वहीन हो गया है.

हिज्बुल्ला ने समर्थन वापस लिया, लेबनान सरकार गिरी

सीएनएन के मुताबिक, शनिवार रात रियाद से टेलीविजन पर प्रसारित हुए एक संबोधन में हरीरी ने कहा कि उन्हें अपनी हत्या की साजिश रचे जाने का अंदेशा है. उन्होंने साथ ही ईरान पर क्षेत्र में दखल देने का आरोप लगाया, जिसके कारण तबाही और अराजकता फैल रही है. हरीरी ने कहा, "ईरान क्षेत्र में और सीरिया व इराक दोनों के फैसलों को नियंत्रित करता है." उन्होंने कहा, "मैं ईरान और उसके समर्थकों को यह बताना चाहता हूं कि वह अरब देशों के आंतरिक मामलों में दखल देने की कोशिश में सफल नहीं हो पाएगा."

टिप्पणियां
इसके जवाब में ईरान ने इन आरोपों को खारिज करते हुए अमेरिका और सऊदी अरब पर इस्तीफे की योजना बनाने का आरोप लगाया. ईरान के विदेश मंत्रालय के अधिकारी हुसैन शेखउस्लाम ने फार्स न्यूज एजेंसी को बताया कि हरीरी का इस्तीफा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और सऊदी अरब के मोहम्मद बिन सलमान के साथ समन्वय की वजह से हैं.

सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि अपने भाषण में एक सुन्नी राजनेता हरीरी ने लेबनान में ईरान समर्थित शिया चरमपंथी समूह हिजबुल्ला का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि पिछले दशकों में दुर्भाग्य से हिजबुल्ला लेबनान में हथियारों के बल पर अपना प्रभाव जमाने में सफल रहा है. हिजबुल्ला से संबद्ध लेबनान के राष्ट्रपति मिशेल आउन ने इस्तीफे को लेकर हरीरी का फोन आने की पुष्टि की है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement