NDTV Khabar

माल्या ने कहा, जेल में कुदरती रोशनी और हवा नहीं, लंदन की कोर्ट ने मंगवाया VIDEO

लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को जमानत दे दी है. प्रत्यर्पण मामले में विजय माल्या के खिलाफ अगली सुनवाई अब 12 सितंबर को होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
माल्या ने कहा, जेल में कुदरती रोशनी और हवा नहीं, लंदन की कोर्ट ने मंगवाया VIDEO

लंदन की कोर्ट ने विजय माल्या को दी जमानत.

खास बातें

  1. लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट से माल्या को मिली जमानत
  2. माल्या के खिलाफ अगली सुनवाई अब 12 सितंबर को होगी
  3. कोर्ट ने भारतीय जेल का वीडियो मंगवाया, जहां माल्या को रखने की योजना
लंदन: लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को जमानत दे दी है. प्रत्यर्पण मामले में विजय माल्या के खिलाफ अगली सुनवाई अब 12 सितंबर को होगी. सुनवाई के दौरान लंदन की अलादत ने भारत से उस जेल का एक वीडियो भी देने को कहा है, जहां प्रत्यर्पण के बाद माल्या को रखने की योजना है. माल्या ने कुछ दिन पहले भारतीय जेलों की खराब स्थिति का हवाला देते हुए याचिका लगाई थी. 

दरअसल विजय मल्या ने लंदन कोर्ट  में ये दलील दी कि आर्थर रोड जेल में रोशनी नहीं आती और वहां कई बार मानवाधिकारों का उल्लंघन होता है. इसके चलते लंदन कोर्ट ने इस जेल का वीडियो मांगा है वो भी बीच दोपहर में शूट किया गया. जो टीम भारत से लंदन गई है उसने कोर्ट को यक़ीन दिलाया कि वो वीडियो तीन हफ़्ते के अंदर कोर्ट में पेश कर देगी. इधर भारत सरकार का कहना है कि जेल के हालात पर बेहद विचार करके विजय माल्या अपने प्रत्यर्पण में देरी कर रहा है.
 
यह भी पढ़ें : भारत आने और कानून का सामना करने को तैयार है विजय माल्या : सूत्र

बता दें कि किंगफिशर एयरलाइन के पूर्व मालिक विजय माल्या ने धोखाधड़ी और तकरीबन 9000 करोड़ रुपये के मनी लॉन्डरिंग के आरोपों में प्रत्यर्पण के भारत के प्रयासों को चुनौती दी थी. वह पिछले साल अप्रैल में गिरफ्तारी के बाद जमानत पर रिहा है. माल्या अपने पुत्र सिद्धार्थ के साथ अदालत पहुंचा था.

यह भी पढ़ें : भारत आने, कानून का सामना करने को तैयार है माल्या, अधिकारियों को दिया संकेत

माल्या ने कोर्ट से बाहर पत्रकारों से बात करते हूए कहा, 'अंतत: अदालत फैसला करेगी.' बीते 27 अप्रैल को पिछली सुनवाई के दौरान केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को बल मिला था जब जज आरबथनॉट ने इस बात की पुष्टि की थी कि भारतीय अधिकारियों ने जो साक्ष्य सौंपे हैं, वो मामले में स्वीकार्य होंगे. सीबीआई ने ब्रिटेन की अदालत को ढेर सारे दस्तावेज सौंपे थे, जिनमें आईडीबीआई बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक बीके बत्रा के खिलाफ साजिश का मामला भी शामिल है.

टिप्पणियां
VIDEO: विजय माल्या ने की बैंकों का पैसा चुकाने की पेशकश


बता दें कि माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर मुकदमा पिछले साल 4 दिसंबर को लंदन की अदालत में शुरू हुआ था. इसका लक्ष्य माल्या के खिलाफ पहली नजर में धोखाधड़ी का मामला बनाना है. माल्या मार्च 2016 में भारत छोड़ने के बाद से ब्रिटेन में बसे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement