NDTV Khabar

महात्मा गांधी को मिल सकता है अमेरिका का सर्वोच्च नागरिक सम्मान, कानून पेश करने की तैयारी

अमेरिकी सांसद ने कहा है कि वह महात्मा गांधी को मरणोपरांत अमेरिका के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, ‘कांग्रेसनल स्वर्ण पदक’ दिए जाने के लिए एक ऐतिहासिक कानून पेश करेंगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महात्मा गांधी को मिल सकता है अमेरिका का सर्वोच्च नागरिक सम्मान, कानून पेश करने की तैयारी

महात्मा गांधी को सम्मान देने के लिए कानून पेश किया जाएगा.

न्यूयॉर्क: अमेरिका की एक प्रभावशाली सांसद ने कहा है कि वह महात्मा गांधी को मरणोपरांत अमेरिका के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, ‘कांग्रेसनल स्वर्ण पदक’ दिए जाने के लिए एक ऐतिहासिक कानून पेश करेंगी. दुनिया भर में नागरिक अधिकारों के लिए शांतिपूर्ण आंदोलन चलाने की प्रेरणा देने के लिए गांधी को यह सम्मान दिए जाने का प्रस्ताव रखा जाएगा. न्यूयॉर्क से कांग्रेस सांसद कैरोलिन मालोनी ने 38वें भारत दिवस परेड में यह घोषणा की. भारत के स्वतंत्रता दिवस का वार्षिक जश्न मनाने के लिए इस दिन का आयोजन कल हुआ था. मालोनी ने परेड के दौरान बताया कि, “गांधी ने कई लोगों को प्रभावित किया जिन्हें न्याय के लिए उनके गैर हिंसक नेतृत्व के आधार पर पहले ही यह पदक मिल चुका है जैसे मार्टिन लूथर किंग जूनियर और नेल्सन मंडेला को. यह सब कुछ महात्मा गांधी की शिक्षा पर आधारित था”.

महात्मा गांधी, डॉ जाकिर हुसैन सहित कई दिग्गज नेता जा चुके हैं संघ के कार्यक्रमों में 

टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि वह जल्द ही कानून बनाने का प्रस्ताव पेश करेंगी और विश्वास जताया कि यह कानून सफल रहेगा. मालोनी ने कहा, ”गैर हिंसक विरोध के लिए महात्मा गांधी के ऐतिहासिक सत्याग्रह ने एक राष्ट्र और विश्व को प्रेरित किया. उनका उदाहरण हमें दूसरों की सेवा में खुद को समर्पित करने की ऊर्जा देता है. उनकी विरासत ने विश्व भर में नस्लीय समानता के लिए मार्टिन लूथर किंग जूनियर के आंदोलन से लेकर रंगभेद के खिलाफ नेल्सन मंडेला की लड़ाई तक, सामाजिक अधिकार आंदोलनों को प्रेरित किया’’. कांग्रेसनल स्वर्ण पदक पाने वाले गांधी पहले भारतीय होंगे. यह सम्मान अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन, मंडेला, मदर टेरेसा और नागरिक अधिकार कार्यकर्ता रोजा पार्क्स को दिया जा चुका है. 


जिस स्टेशन पर जबरदस्ती उतार दिया गया था महात्मा गांधी को, वह होगा खादीमय



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement