NDTV Khabar

मालदीव में ब्रिटिश कालीन मूर्तियों को कुल्हाड़ी से तोड़ा गया, सरकार ने बताई ये वजह

मालदीव के निवर्तमान राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन द्वारा ब्रिटिश कालीन कुछ मूर्तियों को इस्लाम के लिए अपमानजनक बताया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मालदीव में ब्रिटिश कालीन मूर्तियों को कुल्हाड़ी से तोड़ा गया, सरकार ने बताई ये वजह

मूर्तियों को कुल्हाड़ी से तोड़ा गया.

कोलंबो:

मालदीव के निवर्तमान राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन द्वारा ब्रिटिश कालीन कुछ मूर्तियों को इस्लाम के लिए अपमानजनक बताए जाने के बाद पुलिस ने कुल्हाड़ी और अन्य उपकरणों की मदद से मंगलवार को उन्हें तोड़ दिया. यामीन ने जुलाई में ही इन मूर्तियों को नष्ट करने का आदेश दिया था लेकिन उसका पालन शुक्रवार को किया गया. जेसन डि‘कैरस टेलर द्वारा बनायी गयी मूर्तियों को मालदीव के एक रिसॉर्ट में आधे डूबे हुए धातु के कंटेनर में रखा गया था. मालदीव का आधिकारिक धर्म इस्लाम मूर्ति निर्माण को प्रतिबंधित करता है. जुलाई में जब इन मूर्तियों को लगाया गया था तभी कुछ धर्मगुरूओं ने इसकी आलोचना की थी, हालांकि इन मूर्तियों का इस्लाम से कोई नाता नहीं है.

Maldives Election: राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार इब्राहीम मोहम्मद सोलिह ने दर्ज की जीत


यामीन ने जुलाई में कहा था कि ‘कोरालारियम’ सीरिज की इन मूर्तियों के खिलाफ लोगों की भावनाओं को देखते हुए उन्होंने इन्हें नष्ट करने का फैसला लिया है. हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि जुलाई से अब तक इन मूर्तियों को नष्ट क्यों नहीं किया गया था, और राष्ट्रपति चुनाव में यामीन की हार के तुरंत बाद इन्हें तोड़ा जा रहा है. सरकारी मीडिया की ओर से पोस्ट वीडियो में मूर्तियों को नष्ट करते हुए दिखाया गया है.

टिप्पणियां

माले हवाई अड्डे पर गलत हवाई पट्टी पर उतरा एयर इंडिया का प्लेन
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement