NDTV Khabar

मैनचेस्टर के हमलावर सलमान आब्दी की तस्वीर सार्वजनिक, लीबिया में लिया था जन्म

सीसीटीवी फुटेज में छोटी मूंछों वाले एवं चश्मा पहने आब्दी ने जींस, काली बाजुओं वाली कमीज, काली टोपी और काला वेस्टकोट पहना हुआ था. उसके कंधों पर उसके पिट्ठू बैग की पट्टी भी दिखाई दे रही है.

1.1K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मैनचेस्टर के हमलावर सलमान आब्दी की तस्वीर सार्वजनिक, लीबिया में लिया था जन्म

मैनचेस्टर हमले का हमलावर सलमान आब्दी.

खास बातें

  1. मैनचेस्टर में आत्मघाती हमला करने वाले सलमान आब्दी की तस्वीर सार्वजनिक
  2. सलमान आब्दी ने पॉप कंसर्ट में 22 लोगों की हत्या कर दी थी
  3. सुरक्षा कैमरों में कैद हुई थी सलमान आब्दी की तस्वीर
मैनचेस्टर: पुलिस ने मैनचेस्टर में आत्मघाती हमला करने वाले सलमान आब्दी की सुरक्षा कैमरों में कैद हुईं उस रात की फोटो जारी की है जब उसने एक पॉप कंसर्ट में 22 लोगों की हत्या कर दी थी. जांचकर्ताओं ने 22 वर्षीय हमलावर के अंतिम क्षणों की जानकारी दी और लोगों से अपील की कि यदि उन्हें सोमवार की रात हुए हमले के संबंध में उसकी किसी गतिविधि की कोई जानकारी है तो वे इसे साझा करें. सीसीटीवी फुटेज में छोटी मूंछों वाले एवं चश्मा पहने आब्दी ने जींस, काली बाजुओं वाली कमीज, काली टोपी और काला वेस्टकोट पहना हुआ था. उसके कंधों पर उसके पिट्ठू बैग की पट्टी भी दिखाई दे रही है.

पुलिस ने इस फोटो के साथ जारी एक बयान में कहा कि वह हमले से पहले एक सिटी सेंटर फ्लैट में गया और वहां से वह मैनचेस्टर एरेना की ओर रवाना हुआ जहां हमला किया गया.

उन्होंने कहा, 'फ्लैट का काफी गहरा संबंध है क्योंकि हमारा मानना है कि संभवत: इसी जगह उपकरण को अंतिम रूप से संयोजित किया गया होगा. आब्दी द्वारा किए गए हमले के संबंध में ब्रिटेन में इस समय 11 लोग हिरासत में हैं. लीबियाई मूल के आब्दी का जन्म मैनचेस्टर में हुआ था. उसके पिता और भाई को लीबिया में हिरासत में लिया गया है.

पुलिस ने कहा कि जांच में अच्छी प्रगति हुई है और अब वे चाहते हैं कि 18 मई को जब वह ब्रिटेन लौटा, तब से लेकर सोमवार रात तक की उसकी गतिविधियों के बारे में यदि किसी को सूचना है तो वह पुलिस को इसकी जानकारी दे. बयान में यह नहीं बताया गया है कि आब्दी कहां से आया था लेकिन लीबिया में उसके एक संबंधी ने एएफपी को बताया कि हमलावर उत्तरी अफ्रीकी देश से मैनचेस्टर आया था.

ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस और ब्रिटेन की आतंकवाद विरोधी पुलिस ने एक बयान में कहा कि उनकी 1000 कर्मियों की मजबूत टीम चौबीसों घंटे काम कर रही है. कुल 14 स्थलों की जांच अब भी की जा रही है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement