शिप से तेल रिसाव के मामले में मॉरीशस में जापान के जहाज का भारतीय कैप्‍टन गिरफ्तार..

शिप एमवी वाकाशियो 25 जुलाई को यहां पहुंचा था और करीब एक सप्‍ताह बाद इसमें रिसाव शुरू हो गया था, इसके चलते करीब एक हजार टन ऑयल, पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र माने जाने वाले मॉरीशस के समुद्री तट के ब्‍लू वॉटर में मिल गया था.

शिप से तेल रिसाव के मामले में मॉरीशस में जापान के जहाज का भारतीय कैप्‍टन गिरफ्तार..

जापान के इस शिप के भारतीय कैप्‍टन को अरेस्‍ट किया गया है

पोर्ट लुईस :

मॉरीशस के अधिकारियों ने मंगलवार को जापान के स्‍वामित्‍व वाले शिप के भारतीय कप्‍तान को गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार, यह शिप मॉरीशस के समुद्र तट पर दो ह‍िस्‍साेेंं में टूट गया था जिसके कारण कई टन ऑयल का रिसाव होने के कारण जल प्रदूषित हो गया था. शिप एमवी वाकाशियो 25 जुलाई को यहां पहुंचा था और करीब एक सप्‍ताह बाद इसमें रिसाव शुरू हो गया था, इसके चलते करीब एक हजार टन ऑयल, पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र माने जाने वाले मॉरीशस के समुद्री तट के ब्‍लू वॉटर में मिल गया था. अधिकारियों ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि सिंगापुर से ब्राजील जा रहा यह शिप आखिरकार मॉरीशस कैसे पहुंच गया और पर्यावरण संतुलन के लिहाज से खतरा बन गया.

प्रवक्‍ता इंस्‍पेक्‍टर शिवा कूथेन ने बताया, 'हमने शिप के कैप्‍टन और सेंकड इन कमांड को गिरफ्तार किया है. इन्‍हें कोर्ट ले जाया गया था. अन्‍य क्रू मेंबर्स से भी पूछताछ की जाएगी.' शिप के कैप्‍टन भारतीय मूल के नागरिक और उसके डिप्‍टी (जो कि श्रीलंका का निवासी है) पाइरेसी और समुद्री कानूनों के उल्‍लंघन के तहत आरोपित किया गया है और उन्‍हें 25 अगस्‍त को दोबारा कोर्ट में पेश किया किया जाएगा. 

जानकारी के अनुसार, शिप में करीब 4000 टन ईंधन था जिसमें से 1000 टन का रिसाव हो गया जब‍कि शेष तीन हजार टन ईंधन को शिप से निकाल लिया गया था.मैरीटाइम ऑपरेशंस के डायरेक्‍ट एलेन डोनाड ने बताया, 'हम एक नाजुक ऑपरेशन में जुटे हुए हैं.'आयल की सफाई के अभियान के लिए जापान अपनी छह लोगों की टीम को मॉरीशस भेज चुका है. उसने सोमवार को अपनी सात विशेषज्ञों की एक और टीम भेजने की घोषणा की है. 

Newsbeep

जैसलमेर में ऑयल इंडिया के कुएं से गैस रिसाव, आसपास के इलाके सील

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)