NDTV Khabar

बेटे को गोदी में उठा झुला रही थी मां, तभी आई गाड़ी और...27 साल बाद फिर मिले दोनों

मुनिरा ओमार 32 साल की थीं, जब उनका एक्सिडेंट हुआ. अब वो 60 साल की हो चुकी हैं. उनका इलाज जर्मनी के एक अस्पताल में चल रहा था. इस दौरान उनका बेटा उन्हें देखने सउदी अरब से जर्मनी जाता रहता था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बेटे को गोदी में उठा झुला रही थी मां, तभी आई गाड़ी और...27 साल बाद फिर मिले दोनों

27 साल बाद कोमा से जागी मां

सऊदी अरब:

साल 1991 में मुनिरा ओमार अपने बेटे ओमार को स्कूल लेने गईं, उनका बेटा स्कूल से निकला, बेटे को देख मुनिरा ने उसे गोद में उठा झुलाने लगी और तभी अचानक रोड पर आ रही एक गाड़ी ने उन्हें तेज़ी से टक्कर मार दी. मुनिरा ओमार को सिर पर गंभीर चोटें आईं और वो कोमा में चली गईं. लेकिन अब 2019 में 27 सालों बाद वो कोमा से बाहर निकली हैं. जिस बेटे को वो स्कूल से लेने गई थीं, अब वो खुद 32 साल का हो चुका है. 

मुनिरा ओमार 32 साल की थीं, जब उनका एक्सिडेंट हुआ. अब वो 60 साल की हो चुकी हैं. उनका इलाज जर्मनी के एक अस्पताल में चल रहा था. इस दौरान उनका बेटा उन्हें देखने सऊदी अरब से जर्मनी जाता रहता था. 

जापान में पहली बार कोई चुनाव जीतने वाले भारतीय शख्स बने 'योगी', जानिए इनके बारे में खास बातें

उनके बेटे ओमार का कहना है कि, "मुझे हमेशा से मालूम था कि मेरी मां एक दिन ठीक हो जाएंगी. बहुत से डॉक्टरों ने हमें उम्मीद छोड़ने को कहा, लेकिन मैंने उम्मीद नहीं छोड़ी."


ओमार ने आगे कहा कि उनकी मां को मई में होश आ गया था, लेकिन हमने उनकी स्थिति और बेहतर होने तक का इंतज़ार किया.

अब वह बिल्कुल ठीक हैं और UAE में घर में हमारे साथ रह रही हैं. 

एयरपोर्ट पर 19 छिपकलियों के साथ सफर कर रही थी महिला, पुलिस ने पकड़ा और...

ओमार ने कहा कि, "हम चाहते थे कि लोगों को उनके ठीक होने की बात बताने से पहले वो पूरी तरीके से स्वस्थ्य हो जाएं"

टिप्पणियां

VIDEO: अकेली मां होने की चुनौती


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement