NDTV Khabar

महान मुक्केबाज मोहम्मद अली को अंतिम विदाई देने लुईविले में उमड़ा जनसैलाब

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महान मुक्केबाज मोहम्मद अली को अंतिम विदाई देने लुईविले में उमड़ा जनसैलाब

अली के पार्थिव शरीर को 17 कारों के काफिले में लुईविले के कब्रिस्तान तक जाना है (AFP फोटो)

लुईविले:

महान बॉक्सर मोहम्मद अली को अंतिम विदाई देने हजारों लोगों का हुजूम यहां उमड़ा। अली का दो दिवसीय अंतिम संस्कार गुरुवार को फ्रीडम हॉल में शुरू हुआ, जहां उन्होंने अपने मुक्केबाजी करियर के शुरुआती दिनों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था। उनके जनाजे में शामिल होने के लिए करीब 14,000 नि:शुल्क टिकट बांटे गए थे।

अली के जनाजे में पूर्व दिग्गज मुक्केबाज माइक टाइसन और लिनोक्स लुईस के अलावा अभिनेता विल स्मिथ भी मौजूद रहे। इस दौरान अली के नौ बच्चे, उनकी पत्नी, दो पूर्व पत्नियां और परिवार के अन्य सदस्य भी इस काफिले के साथ थे। अली ने वर्षों पहले खुद फैसला किया था कि उनके अंतिम संस्कार को सिर्फ वीआईपी के लिए नहीं, बल्कि आम प्रशंसकों के लिए भी खुला रखा जाए, जिसके कारण हजारों मुफ्त टिकट बांटे गए जो कुछ ही घंटों में खत्म हो गए।

अली के पार्थिव शरीर को 17 कारों के काफिले में लुईविले के कब्रिस्तान तक जाना है और 19 मील के इस सफर के दौरान अली के पार्थिव शरीर के उनके बचपन के घर, जिम जहां उन्होंने सबसे पहले मुक्केबाजी सीखी और उनके नाम के संग्रहालय के सामने से भी गुजरने की उम्मीद है।


अंतिम यात्रा के दौरान अली के प्रशंसकों ने उनके पार्थिव शरीर पर फूल और गुलाब की पंखुड़ियां भी फेंकी। इस दौरान कुछ लोग 'अली! अली!' चिल्ला रहे थे, जबकि अन्य अपने चैम्पियन को जाते हुए देखकर गम में खामोश थे। अली को दोपहर के करीब दफनाए जाने की उम्मीद है। उनके 'हेडस्टोन' पर सिर्फ 'अली' लिखा गया है। दोपहर बाद अली की याद में भव्य 'मेमोरियल सर्विस' होनी है। इसमें 15000 से अधिक लोगों के हिस्सा लेने की उम्मीद है, जिसमें पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और अभिनेता बिली क्रिस्टल जैसी शख्सियतें भी शामिल होंगी।

बीसवीं सदी के सबसे आकर्षक और विवादास्पद खिलाड़ियों में शामिल अली का लंबे समय तक पार्किन्सन बीमारी से जूझने के बाद पिछले शुक्रवार को 74 बरस की उम्र में निधन हो गया। गुरुवार को उनकी याद में पारंपरिक मुस्लिम रीति रिवाज से अंतिम संस्कार हुआ, जिसमें दुनिया भर से उनके लगभग 6000 प्रशंसक पहुंचे। अली ने लगभग एक दशक पहले ही इस कब्रिस्तान को अपना अंतिम स्थल चुन लिया था। इस कब्रिस्तान में 1,30,000 कब्र हैं, जिसमें केंटकी के जाने माने लोग भी शामिल हैं। केंटकी फ्राइड चिकन (केएफसी) के संस्थापक कर्नल हारलैंड सैंडर्स की कब्र भी यहीं हैं।

टिप्पणियां

केएफसी यम सेंटर में होने वाली मेमोरियल सर्विस में क्लिंटन, क्रिस्टल और टीवी पत्रकार ब्रायंट गुंबेल में बोलने का कार्यक्रम है। वहीं जॉर्डन के किंग के भी इस दौरान मौजूदा रहने की उम्मीद है। आगामी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने अली की पत्नी लोनी को सूचित किया कि वह कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाएंगे। राष्ट्रपति बराक ओबामा भी अपने बेटी मालिया के हाई स्कूल से ग्रेजुएट होने के कारण नहीं आ पाएंगे। वाइट हाउस के वरिष्ठ सलाहकार वालेरी जारेट के इस दौरान ओबामा का पत्र पढ़ने की उम्मीद है।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement