NDTV Khabar

NASA ने जिस सैटेलाइट को निष्क्रिय समझा वह 13 साल बाद मिला Active

नासा के 'इमेजर फॉर मैग्नेटोपॉज-टू-ऑरोरा ग्लोबल एक्सप्लोरेशन' (इमेज) ने 20 जनवरी को मिले इस उपग्रह की पहचान की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NASA ने जिस सैटेलाइट को निष्क्रिय समझा वह 13 साल बाद मिला Active

प्रतीकात्मक तस्वीर.

वाशिंगटन: अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी 'नासा' ने दावा किया है कि दशकों से गायब उसका एक उपग्रह जिसे निष्क्रिय समझा जा रहा था वह सही एवं सक्रिय है. नासा के 'इमेजर फॉर मैग्नेटोपॉज-टू-ऑरोरा ग्लोबल एक्सप्लोरेशन' (इमेज) ने 20 जनवरी को मिले इस उपग्रह की पहचान की है.
यह भी पढ़ें : दुनिया से सैकड़ों मील दूर अंतरिक्ष में छह माह बिताएगा और वहीं से वोट भी डालेगा यह शख्स
 
अमेरिका की 'जॉन्स हॉपकिंस एप्लाइड फिजिक्स लैब' ने उपग्रह से सफलतापूर्वक टेलीमेट्री डेटा एकत्रित कर लिया है. अंतरिक्ष एजेंसी उपग्रह से बुनियादी हाउसकीपिंग डेटा पढ़ पा रही है, जिससे इसके मुख्य नियंत्रित प्रणाली के सक्रिय होने की संभावना बनी हुई है. नासा के 'गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर' के वैज्ञानिक और इंजीनियर उपग्रह से प्राप्त डेटा का विश्लेषण करने का प्रयास जारी रखेंगे, ताकि उपग्रह की स्थिति का पता लगाया जा सके.

VIDEO : ब्रह्मांड की सबसे ठंडी जगह बनाने में जुटे वैज्ञानिक...


टिप्पणियां
नासा ने यह सैटलाइट कक्षा में 25 मार्च 2000 को भेजा था. 2 साल का मिशन सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद 18 दिसंबर 2005 को सैटलाइट से संपर्क टूट गया था और साल 2007 में नासा ने इस मिशन को खत्म करने का ऐलान कर दिया था.

(इनपुट : एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement