यह ख़बर 16 सितंबर, 2011 को प्रकाशित हुई थी

खगोलशास्त्रियों ने खोजा दो सूर्य वाला ग्रह

खगोलशास्त्रियों ने खोजा दो सूर्य वाला ग्रह

खास बातें

  • खगोलशास्त्रियों ने ऐसे ग्रह को खोजा है, जो दो सूर्य की परिक्रमा करता है। यह वैसा ही है, जैसा फिल्म स्टार वार्स में काल्पनिक ग्रह टैटूइन है।
वाशिंगटन:

खगोलशास्त्रियों ने एक ऐसे ग्रह के खोजने का दावा किया है, जो दो सूर्य की परिक्रमा करता है। यह ठीक उसी तरह का है जैसा फिल्म स्टार वार्स में काल्पनिक ग्रह टैटूइन को दिखाया गया है। नासा के केप्लर अंतरिक्षयान से पता लगाने वाले एक अंतरराष्ट्रीय दल ने कहा कि यह केप्लर-16बी ग्रह पृथ्वी से करीब 200 प्रकाश वर्ष दूर है और संभवत: जमे हुए पत्थर और गैस का बना हुआ है और इसका आकार शनि ग्रह के बराबर है। यह दो तारों की परिक्रमा कर रहा है और ये तारे भी एक-दूसरे की परिक्रमा कर रहे हैं। इनमें से एक का आकार हमारे सूर्य का तिहाई है, जबकि दूसरा सूर्य के पांचवें हिस्से के बराबर है। प्रत्येक तारे को एक चक्र पूरा करने में 229 दिन का समय लगता है और प्रत्येक तीन हफ्ते पर एक-दूसरे के पर ग्रहण उत्पन्न करते हैं। इस दल के सदस्य और वाशिंगटन डीसी के कारनेजी इंस्टिट्यूशन फोर साइंस में अनुसंधानकर्ता अलान बोस के हवाले से मीडिया में कहा गया है कि दोनों तारों के एक-दूसरे के अत्यंत निकट होने की वजह से कभी भी लगातार सूर्य का प्रकाश प्राप्त नहीं होता है। मीडिया के मुताबिक, वे दोनों प्रत्येक 20.5 दिन में एक-दूसरे के निकट ग्रहण के तौर आते हैं और उसके बाद अलग हो जाते हैं। अलगाव में बढ़ोतरी होने से वे अलग-अलग अवधियों में डूबते हैं। दल ने केप्लर अंतरिक्षयान द्वारा संग्रहित आंकडों में असमान्य सिंग्नलों को देखकर इस ग्रह की खोज की।

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com