NDTV Khabar

अमेरिका और ब्रिटेन के इन 3 वैज्ञानिकों को मिला मेडिसिन का नोबेल पुरस्कार

नोबेल पुरस्कार हर साल स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की स्मृति में दिया जाता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिका और ब्रिटेन के इन 3 वैज्ञानिकों को मिला मेडिसिन का नोबेल पुरस्कार

खास बातें

  1. मेडिसिन के लिए सामूहिक रूप से मिला पुरस्कार
  2. 14 अक्टूबर तक बाकी क्षेत्रों के लिए भी होगी घोषणा
  3. नोबेल फाउंडेशन द्वारा दिया जाता है ये पुरस्कार
नई दिल्ली:

दुनिया का प्रतिष्ठित नोबेल पुरस्कार मेडिसिन के क्षेत्र में इस बार तीन वैज्ञानिकों को सामूहिक रूप से दिया गया है. इन वैज्ञानिकों के नाम हैं विलियम कायलिन,  ग्रेग सेमेन्ज़ा और पीटर रैटक्लिफ. विलियम औऱ ग्रेग अमेरिका से ताल्लुक रखते हैं जबकि पीटर ब्रिटेन के रहने वाले हैं. इन लोगों ने पता लगाया कि ऑक्सीजन का स्तर किस तरह से हमारे सेलुलर मेटाबोलिज्म और शारीरिक गतिविधियों को प्रभावित करता है. वैज्ञानिकों की इस खोज से एनीमिया, कैंसर और अन्य बीमारियों के खिलाफ लड़ाई में नई रणनीति बनाने का रास्ता साफ हुआ है. 

आखिर महात्‍मा गांधी को क्‍यों कभी नहीं मिला शांति का नोबेल पुरस्‍कार

स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में सोमवार को नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की गई. मंगलवार को भौतिकी और उसके बाद 14 अक्टूबर तक कुल छह क्षेत्रों में नोबेल पुरस्कार विजेताओं का ऐलान किया जाएगा. वहीं स्वीडिश अकादमी 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों का घोषणा करेगी. 2018 में यौन उत्पीड़न के मामले में फंसने की वजह से साहित्य के नोबेल पुरस्कार को स्थगित कर दिया गया था. 


टिप्पणियां

नोबेल पुरस्कार विजेता वैज्ञानिक का दावा, ISRO मून लैंडर समस्या को सही कर लेगा

बता दें नोबेल पुरस्कार हर साल स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की स्मृति में दिया जाता है. इसकी शुरुआत 1901 में हुई थी. ये पुरस्कार चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, साहित्य, शांति और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में दिया जाता है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... कश्मीरी पंडितों का दर्द हमने कितना समझा?

Advertisement