NDTV Khabar

प्रतिबंधों की धमकी के बावजूद उत्तर कोरिया ने किया एक और बैलेस्टिक मिसाइल का परीक्षण

उत्तर कोरिया ने रविवार को एक मध्यम दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया. एक सप्ताह के भीतर यह दूसरा और इस साल किया गया आठंवा परीक्षण है जिसको लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निंदा की गयी और कड़े प्रतिबंध की धमकी दी गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रतिबंधों की धमकी के बावजूद उत्तर कोरिया ने किया एक और बैलेस्टिक मिसाइल का परीक्षण

दक्षिणी फ्योनगान प्रांत में पुकचांग के निकट से मिसाइल दागी गई और इसने करीब 500 किलोमीटर की दूर तय की...

खास बातें

  1. उत्तर कोरिया ने रविवार को एक मध्यम दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया
  2. एक सप्ताह के भीतर दूसरा और इस साल किया गया आठंवा परीक्षण
  3. दक्षिणी फ्योनगान प्रांत में पुकचांग के निकट से मिसाइल दागी गई
सोल: उत्तर कोरिया ने रविवार को एक मध्यम दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया. एक सप्ताह के भीतर यह दूसरा और इस साल किया गया आठंवा परीक्षण है जिसको लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निंदा की गई और कड़े प्रतिबंध की धमकी दी गई है. दक्षिण कोरिया ने इस परीक्षण को ‘गैरजिम्मेदाराना’ करार दिया जबकि अमेरिकी सेना ने क्षेत्र में अपने साझेदारों की रक्षा की अपनी प्रतिबद्धता जताई.

दक्षिण कोरिया के सशस्त्र बल ने कहा कि दक्षिणी फ्योनगान प्रांत में पुकचांग के निकट से मिसाइल दागी गई और इसने करीब 500 किलोमीटर की दूर तय की. उसने अभी इस परीक्षण के बारे में ब्योरा नहीं बताया है. अमेरिका ने इस मिसाइल को मध्यम दूरी की बताया है.

दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टॉफ ने एक बयान में कहा, "उत्तर कोरियाई सेना की ओर से उकसाने वाले कदमों पर हमारी सेना बारीकी से नजर बनाए हुए है. हम अपनी सेना को तैयार रखे हुए हैं." बीते 14 मई को उत्तर कोरिया ने हवासोंग-12 मिसाइल का परीक्षण किया था जिसकी मारक क्षमता करीब 800 किलोमीटर है. यह मिसाइल बड़े परमाणु हथियार ले जाने भी सक्षम है. जानकारों का कहना है कि हवासोंग उत्तर कोरिया की ओर से दागे गए पहले की सभी मिसाइलों से कहीं ज्यादा दूरी तय करने में सक्षम है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ विदेश दौरे पर पहुंचे व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने इस परीक्षण की पुष्टि की है.

अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, "हम अवगत हैं कि मध्यम दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया गया है. यह सिस्टम उत्तर कोरिया के सबसे हालिया तीन परीक्षणों के मुकाबले कम दूरी की क्षमता वाला है." समाचार एजेंसी योनहैप ने खबर दी है कि ताजा परीक्षण के बाद दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जाए-इन ने राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाई है.  

टिप्पणियां
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement