उत्तर कोरिया ने फिर शुरू किया प्लूटोनियम रिएक्टर : अमेरिकी खुफिया एजेंसी का खुलासा

उत्तर कोरिया ने फिर शुरू किया प्लूटोनियम रिएक्टर : अमेरिकी खुफिया एजेंसी का खुलासा

अमेरिका के राष्ट्रीय खुफिया निदेशक जेम्स क्लैपर

वाशिंगटन:

अमेरिका के राष्ट्रीय खुफिया निदेशक जेम्स क्लैपर ने कहा है कि उत्तर कोरिया ने एक यूरेनियम संवर्धन इकाई का विस्तार किया है और एक प्लूटोनियम रिएक्टर को फिर से चालू किया है। इससे वह अगले कुछ हफ्तों या महीनों में इस्तेमाल किए जा चुके ईंधन से प्लूटोनियम बरामद करने का काम शुरू कर सकता है। खुफिया एजेंसियों की ओर से अमेरिका के सामने मौजूद बड़े खतरों का वार्षिक आकलन पेश करते वक्त क्लैपर ने यह बात कही।

क्लैपर ने कहा कि प्योंगयांग ने 2013 में परमाणु इकाइयों को फिर से दुरूस्त कर शुरू करने के लिए योंगब्योन स्थित यूरेनियम संवर्धन इकाई और 2007 में बंद किए जा चुके अपने ग्रेफाइट आधारित प्लूटोनियम उत्पादन रिएक्टर को इसमें शामिल करने की मंशा जाहिर की थी।

Newsbeep

सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के समक्ष दिए गए क्लैपर के शुरुआती बयान के मुताबिक, हमारा आकलन है कि उत्तर कोरिया ने अपनी योंगब्योन संवर्धन इकाई और प्लूटोनियम उत्पादन रिएक्टर के विस्तार की घोषणा पर काम किया है। उन्होंने कहा, हमारा यह भी आकलन है कि उत्तर कोरिया लंबे समय से रिएक्टर संचालित कर रहा है, ताकि वह कुछ ही हफ्तों या महीनों में रिएक्टर के खर्च हो चुके ईंधन से प्लूटोनियम बरामद करने का काम शुरू कर सके।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


क्लैपर ने यह भी कहा कि इस्लामिक स्टेट के आतंकवादी विदेशों में अमेरिकी हितों के खिलाफ साजिशें करना जारी रखेंगे और देश में अमेरिकियों को सबसे बड़ा खतरा देश में ही होने वाले हमलों से होगा।