अपने परमाणु हथियारों को छिपाने की फिराक में है उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया का यह व्यवहार सिंगापुर में 12 जून को उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुई शिखर बैठक के दौरान बनी सहमति के खिलाफ है.

अपने परमाणु हथियारों को छिपाने की फिराक में है उत्तर कोरिया

कुछ दिन पहले ही राष्ट्रपति ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग की शिखर वार्ता हुई थी.

नई दिल्ली:

उत्तर कोरिया देश में मौजूद परमाणु हथियारों और गोपनीय उत्पादन स्थल को छुपाने के तरीकों पर विचार कर रहा है. वाशिंगटन पोस्ट ने आज अपनी खबर में यह दावा किया है. अखबार ने खुफिया विभाग के अधिकारियों का हवाला देते हुए लिखा है कि अमेरिकी खुफिया विभाग के अधिकारियों का निष्कर्ष है कि उत्तर कोरिया पूरे तौर पर अपने परमाणु हथियारों का समर्पण करने के पक्ष में नहीं है.
 
दक्षिण कोरिया-अमेरिका के बीच सैन्य गठबंधन के साझा खर्च को लेकर नए दौर की बातचीत शुरू

उत्तर कोरिया का यह व्यवहार सिंगापुर में 12 जून को उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच हुई शिखर बैठक के दौरान बनी सहमति के खिलाफ है. किम ने अमेरिका की ओर से सुरक्षा की पूर्ण गारंटी के एवज में ‘‘ पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण ’’ की बात कही थी. अखबार के मुताबिक, खुफिया विभाग द्वारा एकत्र सबूतों के अनुसार उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियारों और परमाणु हथियार विकसित करने में सक्षम गोपनीय स्थलों को बचाए रखना चाहता है. 

रणनीति इंट्रो: ट्रंप-किम की ऐतिहासिक मुलाकात​

अमेरिका के कुछ अधिकारियों का मानना है कि उत्तर कोरिया के पास करीब 65 परमाणु हथियार हैं.
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com