खाने की भीषण कमी के बाद अब इस देश में पड़ा सूखा, खराब मौसम बना मुसीबत

देश में 1982 के बाद से यह बारिश का सबसे कम स्तर है. उत्तर कोरिया में 1982 में इसी अवधि में औसतन 51.2 मिलीमीटर बारिश हुई थी. 

खाने की भीषण कमी के बाद अब इस देश में पड़ा सूखा, खराब मौसम बना मुसीबत

भीषण सूखे से जूझ रहा है देश : उत्तर कोरिया

सियोल:

उत्तर कोरिया ने देश में खाद्यान्न की कमी की खबरों के बीच कहा है कि वह करीब चार दशकों में सबसे भीषण सूखे से जूझ रहा है. आधिकारिक ‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी' ने बताया कि इस साल के पहले पांच महीनों में देशभर में औसतन 54.4 मिलीमीटर बारिश हुई.

देश में 1982 के बाद से यह बारिश का सबसे कम स्तर है. उत्तर कोरिया में 1982 में इसी अवधि में औसतन 51.2 मिलीमीटर बारिश हुई थी. 

यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है, जब संयुक्त राष्ट्र खाद्य एजेंसियों ने इस माह की शुरुआत में एक संयुक्त आकलन में कहा था कि उत्तर कोरिया में करीब एक करोड़ लोग ‘‘खाने की भीषण कमी'' से जूझ रहे है.

इस वेबसाइट ने सिख मेयर को अरब तानाशाह के रूप में दिखाया, बताई ये वजह

संयुक्त राष्ट्र में उत्तर कोरिया के राजदूत किम सोंग ने फरवरी में तत्काल खाद्य सुरक्षा की एक असाधारण अपील की थी.

उत्तर कोरिया के अधिकारियों ने भोजन के इस अभाव के लिए खराब मौसम और अंतरराष्ट्रीय आर्थिक प्रतिबंधों को दोषी ठहराया है.

अलीबाबा फाउंडर जैक मा की अपने कर्मचारियों को सलाह, कहा - "हफ्ते के 6 दिन 6 बार करें सेक्स"

उत्तर कोरिया के हालिया वर्षों में परमाणु एवं मिसाइल प्रक्षेपणों के बाद उस पर प्रतिबंध कड़े कर दिए गए है.

केसीएनए ने बताया कि सूखा मई के अंत तक जारी रहने की आशंका है.

अमेरिका के इस शहर में गर्भपात पर लगा BAN, Abortion करने वाले डॉ. को होगी 99 साल की जेल

इनपुट - आईएएनएस

VIDEO: तानाशाह किम के मन में क्या है?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com