NDTV Khabar

एनआरआई को पुराने नोट जमा कराने का दूसरा मौका नहीं मिलेगा : सुषमा स्वराज

‘ग्लोबल आर्गनाइजेशन फॉर पीपुल्स ऑफ इंडियन ओरिजन’ के एक शिष्टमंडल के साथ बातचीत में विदेश मंत्री ने स्थित स्पष्ट की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एनआरआई को पुराने नोट जमा कराने का दूसरा मौका नहीं मिलेगा : सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि एनआरआई को अब बंद हो चुके नोटों को बदलने का मौका नहीं मिलेगा.

खास बातें

  1. एनआरआई लोगों को अपने पैसे जमा करने की समय सीमा दी गई थी
  2. 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बदलने का अब कोई मौका नहीं
  3. नरेंद्र मोदी ने पिछले साल आठ नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया था
वाशिंगटन:

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि एनआरआई या भारतीय मूल के लोगों को नोटबंदी के जरिए चलन से बाहर कर दिए गए 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बदलने का अब कोई दूसरा मौका नहीं मिलेगा.

सुषमा ने पिछले सप्ताह अपनी न्यूयॉर्क यात्रा के दौरान ‘ग्लोबल आर्गनाइजेशन फॉर पीपुल्स ऑफ इंडियन ओरिजन’ के एक शिष्टमंडल के साथ बातचीत में यह कहा.

यह भी पढ़ें : यशवंत सिन्हा का मोदी सरकार पर वार- गिरती GDP में नोटबंदी ने किया आग में घी का काम

इस समूह के बयान में कहा गया है, ‘‘सुषमा स्वराज ने कहा है कि सरकार ने भारत की नागरिकता रखने वाले एनआरआई लोगों को अपने पैसे जमा करने की समय सीमा दी थी. बहरहाल, विदेशी नागरिकता वाले प्रवासी भारतीयों के लिए यह विकल्प नहीं था और सरकार दूसरा मौका उपलब्ध नहीं कराएगी.’’

VIDEO : नोटबंदी पर सवाल


टिप्पणियां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल आठ नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement