NDTV Khabar

चीनी और पाकिस्तानी सैनिकों ने पीओके के पास पहली बार किया संयुक्त गश्त

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीनी और पाकिस्तानी सैनिकों ने पीओके के पास पहली बार किया संयुक्त गश्त

संयुक्त गश्त के दौरान चीनी और पाकिस्तानी सेना

खास बातें

  1. पीओके से सटे शिन्जियांग प्रांत की सीमा पर यह संयुक्त गश्त की गई
  2. दोनों ओर के सशस्त्र सैनिकों ने कई क्षेत्रों में पैदल गश्त किया
  3. चीनी अखबार ने इस संयुक्त गश्त की तस्वीरें ऑनलाइन प्रकाशित की है
बीजिंग: चीन और पाकिस्तान के सीमा सैनिकों ने पहली बार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर और शिन्जियांग प्रांत की सीमा पर संयुक्त गश्त की है। यह गश्त इन खबरों के बीच हुई है कि 100 से अधिक उइगर ISIS में शामिल होने के लिए इस अशांत क्षेत्र से भाग गए हैं।

चीन की सरकारी मीडिया ने संयुक्त गश्त के बारे में जानकारी दी, जबकि चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने चीन के मुस्लिमों से कहा था कि वे अपने धर्म का पालन 'चीन के समाज एवं निर्देश के तहत करें।'

द पीपुल्स डेली ऑनलाइन ने करीब दर्जन भर तस्वीरें प्रकाशित की, जिसका शीर्षक था 'शिन्जियांग प्रांत में पाकिस्तान की सीमा पुलिस बल के साथ पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की सीमांत रक्षा रेजीमेंट ने चीन-पाकिस्तान सीमा पर एक संयुक्त गश्त की।' तस्वीरों में दिखाया गया है कि दोनों ओर से सशस्त्र सैनिक कई क्षेत्रों में पैदल गश्त कर रहे हैं।

ऐसा पहली बार हुआ है जब चीन-पाकिस्तान ने हाल के वर्षों में संयुक्त गश्त की है। हालांकि चीन के सैनिक क्षेत्र में 2014 से ही गश्त कर रहे हैं। हालांकि इस संयुक्त गश्त और इस बारे में जानकारी मुहैया कराने वाला कोई आलेख नहीं आया है कि दोनों देश इसे शुरू करने के क्यों प्रेरित हुए, लेकिन यह ऐसे समय आया है जब यह खबर आई है कि 100 से अधिक उइगर मुस्लिम ISIS में शामिल होने के लिए शिन्यिांग से निकले हैं।

टिप्पणियां
द न्यू अमेरिका फाउंडेशन ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि कुछ मुस्लिम प्रथाओं को प्रतिबंधित करना या उन पर सख्त नियंत्रण के चलते कई आईएसआईएस में शामिल हुए हैं। इन प्रतिबंधों में दाढ़ी बढ़ाने और रमजान के दौरान रोजे पर रोक शामिल है।

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement