NDTV Khabar

डीएनए रिपोर्ट में पुष्टि के बाद पाकिस्तान ने बलूचिस्तान में चीनी दंपति के मारे जाने की बात स्वीकारी

चीनी नागरिक ली जिंग यांग (24) और मेंग ली सी (26) की जून में हत्या कर दी गई थी. दोनों को 24 मई को क्वेटा के जिन्ना टाऊन को अगवा किया गया था. 

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
डीएनए रिपोर्ट में पुष्टि के बाद पाकिस्तान ने बलूचिस्तान में चीनी दंपति के मारे जाने की बात स्वीकारी

प्रतीकात्मक फोटो.

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने सोमवार को कहा कि डीएनए परीक्षण से दो चीनी नागरिकों की मौत की पुष्टि हो गई है, जिन्हें इसी साल के शुरुआत में अशांत बलूचिस्तान प्रांत में आतंकवादियों ने अगवा कर लिया था. चीनी नागरिक ली जिंग यांग (24) और मेंग ली सी (26) की जून में हत्या कर दी गई थी. दोनों को 24 मई को क्वेटा के जिन्ना टाऊन को अगवा किया गया था. 

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान और चीन की सीमा पर मजबूत की जाएगी निगरानी

टिप्पणियां
आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ के बाद दोनों के शव पहाड़ों पर मिले थे, लेकिन उनकी पहचान नहीं हो पाई थी. जून में गृह मंत्रालय को सूचना मिली थी कि चीनी नागरिक पाकिस्तान आने के बाद घोषित व्यापारिक उद्देश्य के बजाय उपदेश देने में लगे थे. विदेश मंत्रालय से जारी बयान के अनुसार डीएनए रिपोर्ट से पुष्टि हुई है कि बलूचिस्तान में मारे गए दो व्यक्ति वही दोनों चीनी नागरिक थे, जिन्हें क्वेटा से अगवा किया गया था. कुछ महीने पहले इस्लामिक स्टेट ने इस दंपति की हत्या की जिम्मेदारी ली थी.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement