NDTV Khabar

पुलवामा हमले के बाद पाक सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में लिया

पुलवामा हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद बढ़े वैश्विक दवाब के बीच पाक सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पुलवामा हमले के बाद पाक सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में लिया

जै-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर.

नई दिल्ली:

पुलवामा हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद बढ़े वैश्विक दवाब के बीच पाक सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Attack) की जिम्मेदारी ली थी, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. बता दें कि पाकिस्तान का यह कदम संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद के पुलवामा हमले की कड़ी निंदा करने के एक दिन बाद उठाया गया है. सुरक्षा परिषद में चीन समेत शामिल 15 देशों ने हमले पर जारी निंदा प्रस्ताव का समर्थन किया था.

यह भी पढ़ें: भारत-पाक में बढ़े तनाव के बीच इमरान खान ने सेना को किया अलर्ट, पुलवामा हमले में हाथ होने से भी इनकार

संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद ने एक बयान जारी कर जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को कायराना करार दिया था. सुरक्षा परिषद ने अपने बयान में पाकिस्तान के आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद का नाम भी लिया था. सुरक्षा परिषद ने कहा था कि आतंकवाद पूरी दुनिया के लिए बड़ा खतरा बन गया है.


यह भी पढ़ें: भारत-पाक में बढ़े तनाव के बीच इमरान खान ने सेना को किया अलर्ट, पुलवामा हमले में हाथ होने से भी इनकार

पाकिस्तान सरकार के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने न्यूज एजेंसी PTI को बताया कि पंजाब सरकार ने बहावलपुर में JeM मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है. उन्होंने कहा, 'पंजाब की सरकार ने बहावलपुर में मदरसातुल साबिर और जामा-ए-मस्जिद सुब्हानल्लाह के परिसर को अपने नियंत्रण में ले लिया है और मामलों के प्रबंधन के लिए एक प्रशासक नियुक्त किया है. बता दें कि बहावलपुर लाहौर से 400 किलोमीटर दूर है.

आंतरिक मंत्रालय की ओर से भी जारी एक बयान में कहा गया है कि जैश पर 'प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में
गुरुवार को हुए राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के निर्णय के अनुसार' लिया गया है. गृह मंत्रालय की ओर से भी जारी एक बयान में कहा गया है कि जैश पर कार्रवाई प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में गुरुवार को हुए राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में लिए गए फैसले की तर्ज पर की गई है. बयान में कहा गया है कि दोनों परिसरों में फिलहाल 70 शिक्षक और 600 छात्र हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: पाक पर बन पाएगा दबाव?

(इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement